सोनीपत. आए दिन महिलाओं की सुरक्षा के नाम पर अजीबोगरीब खबरें आती रहती हैं. जिस दौर में महिलाएं आगे बढ़ रही हैं तो दूसरी तरफ सोनीपत के एक गांव में लड़कियों पर मोबाइल फोन के इस्तेमाल करने और जींस पहने के लिए मना कर दिया गया. जी हां, यहां लोगों का मानना है कि लड़कियों के द्वारा मोबाइल का यूज करने और ऐसे कपड़े पहनने से वो बहक जाती हैं और लड़कों के साथ भाग जाती हैं.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, सोनीपत के गोहाना के नजदीक गांव ईशापुर खेड़ी में गांव पंचायत ने तालिबानी फरमान सुनाया. इस फरमान के तहत पंचायत ने लड़कियों के लिए मोबाइल फोन के इस्तेमाल करने और जींस पहनने से मना कर दिया. इसके पीछे पंचायत का तर्क है कि पिछले दिनों तीन लड़कियां गांव से भाग गई थीं. इन तीनों केस में लड़कियां मोबाइल यूज करती थीं और जींस भी पहना करती थी. इसीलिए उन्होंने गांव की सभी लड़कियों के लिए फरमान सुनाया है.

खबरों की मानें तो गांव के सरपंच इस बात को मनवाने के लिए गांव के अलग अलग हिस्सों में मीटिंग कर रहे हैं और इसे लागू करने की बात कर रहे हैं. हैरानी की बात तो ये है कि गांव के कुछ लोग इस फैसले की सराहना कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि ये गांव और लड़कियों के हित में फैसला है. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार गांव में इस फैसले को सख्ती से लागू करवाने के निर्देश भी जारी किए गए हैं.

हरियाणा में दबंगों का दलित परिवार पर कहर, महिलाओं को भी नहीं बख्शा

यूपीः एटा में आठ साल की बच्ची की रेप के बाद हत्या, आरोपी गिरफ्तार

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App