सोनभद्र. उत्तर प्रदेश के सोनभद्र में बुधवार को जमीन विवाद में हुई भीषण गोलीबारी में 10 लोगों की मौत के बाद आज प्रियंका गांधी सुबह बनारस गईं और घटना में घायल हुए लोगों से मुलाकात की. इसके बाद मृतकों के परिजनों से मिलने सोनभद्र जा रहीं प्रियंका गांधी के काफिले को नारायणपुर में रोक दिया गया. उन्हें प्रशासन ने आगे जाने की अनुमति नहीं दी जिसके बाद प्रियंका गांधी वहीं धरने पर बैठ गईं. इसके बाद पुलिस उन्हें हिरासत में लेकर चुनार गेस्ट हाउस ले गई है. प्रियंका गांधी ने कहा है कि वो पीड़ित परिवार से मिले बिना नहीं जाएंगी. वहीं पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी यूपी की योगी आदित्नाथ सरकार पर निशाना साधते हुए ट्वीट किया है. राहुल ने लिखा कि प्रियंका को गैरकानूनी तौर पर गिरफ्तार किया गया है. उन्हें पीड़ित परिवार से न मिलने देने से उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार की असुरक्षा पता चलती है. किसान कांग्रेस प्रियंका को हिरासत में लिए जाने के खिलाफ देश भर में बीजेपी दफ्तरों के सामने प्रदर्शन करेगी.

बता दें कि बुधवार को सोनभद्र के घोरावल थाना क्षेत्र के मूर्तिया गांव में जमीन कब्जाने को लेकर फायरिंग हुई थी. गांव के बाहरी इलाके में सैकड़ों बीघा खेत है जिस पर गांव के कुछ लोग पुश्तैनी तौर पर खेती करते आ रहे हैं. गांव वालों के मुताबिक इस जमीन का एक बड़ा हिस्सा प्रधान के नाम पर है. ग्राम प्रधान यज्ञदत्त ने एक आईएएस अधिकारी से 100 बीघा जमीन खरीदी थी. यज्ञदत्त ने इस जमीन पर कब्जे के लिए बड़ी संख्या में अपने साथियों के साथ पहुंचकर ट्रैक्टरों से जमीन जोतने की कोशिश की. स्थानीय ग्रामीणों ने इसका विरोध किया. इसके बाद ग्राम प्रधान पक्ष के लोगों ने गांव वालों पर ताबड़तोड़ गोलियां चला दीं. जिसमें 10 लोगों की मौत हो गई, जबकि 23 लोग घायल हुए हैं.

आज क्या हुआ: सुबह से शाम तक, सिलसिलेवार ढंग से

सोनभद्र हत्याकांड में घायल हुए लोगों से मिलने प्रियंका गांधी बनारस पहुंची

सोनभद्र जाते वक्त प्रियंका गाधी को रास्ते में (नारायणपुर) रोका गया, प्रियंका गांधी इसके बाद धरने पर बैठ गईं

धरने पर बैठी प्रियंका गांधी को हिरासत में लेकर एसडीएम की गाड़ी में चुनार गेस्ट हाउस ले जाया गया

कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ चुनार गेस्ट हाउस पर धरने पर बैठीं प्रियंका गांधी

राहुल गांधी ने ट्वीट कर प्रियंका गांधी की गिरफ्तारी को गैरकानूनी बताया 

प्रिंयका गांधी को हिरासत में लिए जाने के खिलाफ देश भर में बीजेपी दफ्तरों के आगे विरोध प्रदर्शन करेगी किसान कांग्रेस

प्रियंका गांधी ने कहा- मुझे पीड़ितों के समर्थन में खड़े होने से कोई रोक नहीं सकता

बता दें कि सोनभद्र हत्याकांड में मुख्य आरोपी यज्ञदत्त सहित 26 लोग गिरफ्तार हो चुके हैं इसके अलावा 50 लोगों पर एफआईआर दर्ज हुई है. मृतकों को योगी आदित्यनाथ सरकार ने पांच लाख के मुआवजे की घोषणा की है.

क्या दादी इंदिरा गांधी की राह पर हैं प्रियंका
इमरजेंसी के बाद इंदिरा गांधी की सरकार जा चुकी थी. लोग इमरजेंसी के दिनों को याद कर कांप जाते. इंदिरा गांधी की सत्ता में वापसी असंभव लगा करती थी. जनता इंदिरा गांधी से तंग आ चुकी थी. लेकिन शायद यह पूरा सच नहीं था. जनता का गुस्सा क्षणिक था. चुनाव में हराने के बाद शायद जनता ने इंदिरा गांधी को माफ कर दिया. सोनभद्र की ही तर्ज पर हुए एक हत्याकांड में जब मृतकों के घर जाने से इंदिरा गांधी को रोका गया तो वो हाथी से घटनास्थल पर गईं. उन्होंने जनता के बीच रहकर लड़ाई लड़ी और सत्ता में वापस आईं. प्रियंका गांधी शायद अपनी दादी की ही राह पर आगे बढ़ना चाहें.

UP CM Yogi Adityanath On Sonbhadra Land Dispute Incident: सोनभद्र हत्याकांड को लेकर यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ बोले- दोषियों पर होगी कड़ी कार्रवाई, प्रियंका गांधी वाड्रा को हिरासत में लेने पर भड़के राहुल गांधी

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App