नई दिल्लीः सोहराबुद्दीन केस की सुनवाई कर रहे सीबीआई जज बी एच लोया की आकस्मिक मौत की जांच के मामले में दाखिल याचिका पर सुप्रीम कोर्ट सुनवाई कर रहा है. शुक्रवार को कोर्ट ने मामले को बेहद गंभीर बताते हुए महाराष्ट्र सरकार से जज लोया की पोस्टमार्टम रिपोर्ट मांगी है. कोर्ट ने फडणवीस सरकार से इस मामले से जुड़े सभी दस्तावेजों को सोमवार को पेश करने के लिए कहा है. सोमवार को इस मामले पर अगली सुनवाई होगी.

महाराष्ट्र के एक पत्रकार ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल कर सोहराबुद्दीन मुठभेड़ के संवेदनशील मामले की सुनवाई कर रहे जज लोया की संदिग्ध मौत की निष्पक्ष जांच की जरूरत है. चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा, जस्टिस एएम खानविल्कर और जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ की पीठ ने बीते गुरुवार को इस याचिका पर शीघ्र सुनवाई के अनुरोध को स्वीकार किया था.

बता दें कि 1 दिसंबर 2014 को नागपुर में अपने सहकर्मी की बेटी की शादी में शामिल होने गए जज की लोया वहीं हार्ट अटैक आने से मृत्यु हो गई थी लेकिन इस मामले ने तूल फिर से पकड़ा जब पिछले साल लोया की बहन ने इसे सोहराबुद्दीन केस से जोड़ते हुए उनकी मौत की परिस्थितियों पर शक जताया था. जस्टिस लोया 26 दिसंबर 2005 को कथित फर्जी मुठभेड़ में मारे गए सोहराबुद्दीन शेख के मामले की सुनवाई कर रहे थे.

यह भी पढ़ें- CBI के विशेष जज बी एच लोया की मौत की जांच के लिए दाखिल याचिका पर सुनवाई को सुप्रीम कोर्ट तैयार, सोहराबुद्दीन मामले की सुनवाई कर रहे थे जस्टिस लोया

क्या है जस्टिस बी एच लोया की मौत का मामला जिसकी जांच को लेकर सुप्रीम कोर्ट और बॉम्बे हाईकोर्ट में PIL डाली गई है

 

 

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App