श्रीनगर. जम्मू-कश्मीर के उड़ी सेक्टर में जम्मू-कश्मीर पुलिस, सेना और सीएपीएफ ने संयुक्त अभियान में घुसपैठ की कोशिश करते जैश-ए-मोहम्मद के 6 फिदायीन आतंकवादियों को मार गिराया है. आतंकी घुसपैठ की सूचना पर संयुक्त टीम ने इस घटना को अंजाम दिया. घटना के बाद जम्मू कश्मीर पुलिस के डीजीपी एस पी वैद ने आतंकियों के मारे जाने की पुष्टि की है.

बताया जा रहा है कि मारे गए आतंकी अंधेरे का फायदा उठाकर उरी के दुलांजा में सीमा पार से घुसपैठ की कोशिश कर रहे थे. इसकी सूचना मिलने पर सुरक्षाबलों ने इलाके की घेराबंदी कर दी. जब आतंकी सीमा पार करने की कोशिश कर रहे थे तभी सुरक्षाबलों ने उन्हें पकड़ने की कोशिश की. अपने आप को घिरा देख आंतकवादियों ने सुरक्षाबलों पर फायरिंग करनी शुरू कर दी. जिसका जबाव देते हुए सुरक्षाबलों ने चारों आतंकियों को मार गिराया

पुलिस महानिदेशक एस पी वैद्य के अनुसार जैश-ए-मोहम्मद के ये आतंकवादी दुलांजा उरी इलाके में घुसपैठ की कोशिश कर रहे थे. जम्मू-कश्मीर पुलिस, सेना और सीआरपीएफ की संयुक्त कार्रवाई में इन चार आतंकवादियों को मार गिराया गया. उन्होंने इस बड़ी कामयाबी पर सुरक्षा बलों को बधाई दी. बता दें कि जम्मू-कश्मीर में सेना ने साल 2017 में 200 आतंकियों को मार दिया है. वहीं आंकड़ों के हिसाब से वर्ष 2011 से 2017 तक सुरक्षाबलों ने कुल 575 आतंकी मार गिराए हैं.

सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत बोले- सीमा पार से आतंकवाद रोकने के लिए पाकिस्तान पर दबाव बनाने की जरूरत

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App