नई दिल्ली. इफको ऑर्गेनिक्स लिमिटेड की एकीकृत जैविक खाद्य प्रसंस्करण इकाई की आधारशिला सिक्किम के मुख्यमंत्री प्रेम सिंह तमांग ने पूर्वी सिक्किम के रंगपो में रखी है. इसका गठन देश के जैविक उत्पादों को बढ़ावा देने और विपणन करने के लिए गया है, खासकर सिक्किम राज्य और देश के अन्य पूर्वोत्तर राज्यों से. सिक्किम इफको बड़ी इलायची, अदरक, हल्दी और कुट्टू जैसी प्रमुख वाणिज्यिक फसलों में कारोबार करती है. इस परियोजना की प्रारंभिक लागत 50 करोड़ रुपए हैं. इसका विनिर्माण 2020 के दिसंबर से शुरू होगा. सिफको (SIFCO) के सभी उत्पाद प्रामाणिक रूप से 100 प्रतिशत जैविक होंगे जिससे प्रकृति को कोई नुकसान नहीं होगा.

इस अवसर पर बोलते हुए सिक्किम के मुख्यमंत्री प्रेम सिंह तमांग ने कहा सिक्किम भारत का पहला राज्य है जो 100 प्रतिशत जैविक है. स्थायी कृषि और ग्रीन हिमालयन इकॉनमी को बढ़ावा देने के लिए यह प्रतिबद्ध है. उन्होंने कहा कि यह संयुक्त उद्यम सुरक्षित खाद्य आपूर्ति श्रृखंला और पर्यावरण संरक्षण के दिशा में एक महत्व पूर्ण कदम है. उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि यह संयुक्त उद्यम सिक्किम राज्य की ओर से किसानों की आय दोगुनी करने के भारत सरकार के मिशन को पूरा करने में मददगार साबित होगा. उन्होंने सिक्किम के किसानों से अपील की कि वे न केवल भारत के किसानों के लिए बल्कि दुनिया के किसानों के लिए जैविक खेती के ऐसे उच्च मानक स्थापित करें कि हम जैविक खेती के माध्यम से लाभ कमा सकते हैं.

वहीं केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने देश में जैविक कृषि को मजबूत करने और स्थानीय किसानों को आजीविका प्रदान करने वाली इफको और सिक्किम सरकार की इस पहल की सराहना की. उन्होंने कहा कि इससे कृषि पर निर्भर भारत के उत्तर पूर्वी राज्यों की अर्थव्यवस्था को बढ़ाने में मदद मिलेगी. यह परियोजना प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रणनीतिक सोच के साथ-साथ देश में जैविक खेती को बढ़ावा देगी. इससे 2020 तक किसानों की आय दोगुनी करने में मदद मिलेगी.

 

इफको के प्रबंध निदेशक डॉ उदय शंकर अवस्थी ने कहा कि इफको में ऑर्गेनिक्स के नए युग की शुरुआत हुई है. उन्होंने आगे कहा कि किसान खाद्य प्रसंस्करण को अपनाकर बहुत कुछ हासिल कर सकते हैं. उन्होंने कहा कि खाद्य प्रसंस्करण फसलों का मूल्यवर्धन करता है और यह भी सुनिश्चित करता है कि किसान अपनी उपज से अधिक से अधिक लाभ कमाएं. इफको का उद्देश्य है कि नए दशक की शुरुआत देश के किसानों को लिए सतत और पर्यावरण हितैषी कृषि के साथ हो. सिफको दुनिया भर में इन प्रमाणित जैविक उत्पादों को बढ़ावा देने और सिक्किम राज्य की 100 प्रतिशत जैविक छवि को मजबूत करने में मददगार होगा.

सिक्किम इफको ऑर्गेनिक्स लिमिटेड उर्वरक क्षेत्र की दुनिया की सबसे बड़ी सहकारी संस्था इफको (इंडियन फरमर्स फर्टिलाइजर कोआपरेटिव लिमिटेड) और सिक्किम सरकार का संयुक्त उद्यम है. इस मौके पर केंद्रीय कृषि और किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, सिक्किम विधानसभा के अध्यक्ष एलबीदास, सिक्किम सरकार के कृषि मंत्री लोक नाथ शर्मा और इफको के प्रबंध निदेशक डॉ उदय शंकर उपस्थित रहे.

ये भी पढ़ें

भोपाल और बेंगलुरू में आईआईएमसी कनेक्शन्स मीट, केरल और यूएई में ईमका चैप्टर गठन

किसानों के अच्छे दिन, IFFCO ने फर्टिलाइजर के दाम घटाए

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App