Thursday, August 11, 2022

सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड: हत्या के बाद शूटरों ने बनाया वीडियो, पिस्तौल लहराते दिखे बदमाश

चण्डीगढ़। पंजाबी सिंगर और कांग्रेस नेता सिद्धू मूसेवाला की हत्या करनें वालो का एक नया विडियो सामने आया है। इस वीडियो में ताबड़तोड़ गोलियों की बौछार कर मूसेवाला की हत्या को अंजाम देने के बाद शूटर मस्ती में पिस्तौल को लहराते नजर आ रहे हैं. हत्यारें कार में पंजाबी गानो में झूमते हुए दिखई दे रहे हैं। पुलिस के मुताबिक ये वीडियो सिद्धू मूसेवाला की हत्या करने के ठीक बाद का है। वीडियो में अंकित सिरसा, कपिल, प्रियव्रत, सचिन भिवानी और दीपक हैं।

बता दें कि वीडियो में कपिल पंडित गाड़ी ड्राइव करता हुआ दिख रहा हैं। वहीं, ड्राइवर के बगल वाली सीट पर प्रियव्रत फौजी नाम का शख्स बैठा है. पीछे की सीट पर सचिन भिवानी और अंकित सिरसा बैठे हुए दिखाई दे रहे है. पुलिस के अनुसार अंकित सिरसा ने ही सिद्धू मूसेवाला पर दोनों हाथों से गोली चलाई थी. अंकित सिरसा की उम्र अभी साढ़े अठारह साल है और इसको दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने गिरफ्तार किया है.

एक और शूटर गिरफ्तार

कांग्रेस नेता सिद्धू मूसेवाला की हत्या में शामिल तीसरे शूटर व एक अन्य शख्स को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने कश्मीरी गेट इलाके से गिरफ्तार कर लिया है। इनकी पहचान सोनीपत के सेरसा गांव के अंकित और भिवानी के बोहाल गांव के सचिन चौधरी के रूप में हुई है। इन दोनों के पास से दो पिस्टल, 19 कारतूस और पंजाब पुलिस की तीन वर्दी बरामद हुई हैं।

सबसे कम उम्र का शूटर है अंकित

अधिकारी के मुताबिक, हत्या में शामिल छह शूटरों में से सबसे छोटा शूटर अंकित हैं. जिसकी उम्र सिर्फ साढ़े 18 साल हैं । अंकित की ये पहली वारदात हैं जिसमें उसने हत्या को अंजाम दिया है। इससे पहले उसके उपर हत्या की कोशिश करने के दो मामलें शामिल हैं। शूटर अंकित छह महीने पहले ही लारेंस बिश्नोई-गोल्डी बराड़ गैंग में शामिल हुआ था। हत्या के बाद जहां-जहां शूटर छिपे, वहां पर अंकित ने मूसेवाला का नाम कारतूस से लिखकर फोटो भी खिंचवाई।

मास्क नहीं पहनने पर पकड़ में आए

दरअसल, सचिन सभी बदमाशें को छिपाने के लिए गुजरात के कच्छ में लेकर गया था। वहां पर प्रियव्रत मास्क नहीं पहन रहा था। बिना मास्क वह बाहर भी घूमता था। ऐसे में अंकित और दीपक छिपने के लिए अलग जगह चले गए। इसके कुछ ही दिन बाद सेल ने काशिश , प्रियव्रत और केशव को गिरफ्तार कर लिया था। पुलिस अधिकारी ने बताया कि शूटर वारदात के बाद पंजाब, हरियाणा, यूपी, मध्य प्रदेश, गुजरात और झारखंड में 35 जगहों पर छिपे थे। कई बार पुलिस टीम इनके ठिकाने तक भी पहुंची, लेकिन तभी वो वहां से फरार हो जाते थे।

कन्हैया लाल हत्याकांड: बीजेपी नेता को मिली जान से मारने की धमकी,पुलिस ने दी सुरक्षा

Latest news