लखनऊ. उत्तर प्रदेश में सीएम योगी आदित्यनाथ की सरकार ने समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव से बगावत करने वाले उनके चाचा शिवपाल यादव को पूर्व मुख्यमंत्री मायावती वाला सरकारी बंगला आवंटित किया गया है वहीं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव का 4 विक्रमादित्य मार्ग वाला बंगला निर्दलील विधायक राजा भैया को दिया जा सकता है. शिवपाल सिंह यादव की सुरक्षा बढ़ाकर जेड प्लस करने की भी चर्चा बहुत तेज है. 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले राजा भैया और शिवपाल यादव अपनी पार्टी बनाकर चुनाव में उतर सकते हैं जो भाजपा के लिए फायदे का मसला है इसलिए योगी आदित्यनाथ सरकार दोनों ंपर मेहरबान नजर आ रही है.

शिवपाल सिंह यादव का नया बंगला बहुत शानदार महल की तरह है. बंगला आवंटित होने पर शिवपाल ने एक न्यूज चैनल से बातचीत में कहा कि मैं एक सीनियर विधायक हूं और मुझे ऐसे ही बड़े बंगले की जरूरत थी. गौरतलब है कि  इस बंगले में 12 बेडरूम, 2 बड़े हॉल, 12 ड्रेसिंग रूम, 2 किचन, 4 बड़े बरामदे और स्टाफ क्वार्टर हैं. इतना ही नहीं इस बंगले में 8 एसी प्लांट के साथ 500 किलोवॉट के साउंड प्रूफ जेनरेटर भी लगे हुए हैं. 

शिवपाल यादव को इतना बड़ा बंगला दिए जाने पर यूपी की राजनीति में हलचल मच गई है. इसे सियासी समीकरण से भी जोड़कर देखा जा रहा है. हाल में अखिलेश के चाचा ने पहले अपना फैंस एसोसिएशन और फिर समाजवादी सेक्युलर मोर्चा का गठन कर अखिलेश के खिलाफ विद्रोह की आवाज तेज कर दी है. माना जा रहा है कि शिवपाल पर महरबान होकर बीजेपी उन्हें अखिलेश के खिलाफ आगे बढ़ा रही है.

Akhilesh Yadav Challenged in Kannauj by Shivpal Son: शिवपाल यादव के बेटे आदित्य का अखिलेश यादव को चैलेंज, कहा- 2019 लोकसभा चुनाव में कन्नौज से जरूर हराएंगे

भारत के सबसे अमीर विधायक: कर्नाटक के एमएलए क्यों हैं देश के सबसे अधिक पैसा वाले नेता?

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App