मुंबईः इंद्राणी मुखर्जी के द्वारा बेटी शीना बोरा हत्या मामले में सीबीआई कोर्ट में याचिका दाखिल करने के बाद इस केस में एक बार फिर ट्विस्ट आ गया है. सीबीआई कोर्ट में याचिका दायर करके इंद्राणी मुखर्जी ने पीटर मुखर्जी पर आरोप लगाया है कि उसने ही साल 2012 में अपनी बेटी को अपहरण कर गायब कर दिया था. कोर्ट में उसने कहा कि लालच और बुरी नीयत के कारण उनकी बेटी शीना के गायब होने के पीछे पीटर का हाथ हो सकता है. इंद्राणी ने कहा कि पीटर के साथ उसके पूर्व चालक श्यामवर शीना के अपहरण में शामिल हो सकते हैं, उसने कहा कि इन लोगों ने शीना को गायब किया और फिर सबूत नष्ट किए होंगे. इंद्राणी ने कहा कि वह मानती हैं कि गवाहों को प्रभावित करने व सूचना में हेरफेर करने के कारण उनकी गिरफ्तारी हुई. उसने कहा कि अगर हम लोग पीटर का कॉल डिटेल जान पाते तो यह और पुख्ता हो जाता कि शीना के गायब होने में पीटर का हाथ है.

इंद्राणी ने याचिका में मांग की कि फोन कंपनी को पीटर मुखर्जी के साल 2012 से 2015 के कॉल रिकॉर्ड्स खंगालने के आदेश दिया जाएं. उसने कहा कि मेरे पास यह मानने का पक्का कारण है कि पीटर मुखर्जी ने अन्य लोगों की सहायता से 2012 में शीना का अपहरण किया होगा और मुझे फंसाने की कोशिश की. इंद्राणी ने पीटर पर आरोप लगा कर केस में एक नया मोड़ ला दिया है. बता दें कि इंद्राणी मुखर्जी के पूर्व ड्राइवर ने अदालत में शीना बोरा हत्या के मामले में दो आरोपियों की पहचान साजिशकर्ता और हत्यारों के तौर पर की थी.

यह भी पढ़ें  शीना मर्डर केस में ड्राइवर ने किया खुलासा, कहा- इंद्राणी ने दबाया था शीना बोरा का गला

यह भी पढ़ें  शीना मर्डर मिस्ट्री की जांच करने वाले इंस्पेक्टर की पत्नी की बेरहमी से हत्या, बेटा लापता

 

 

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App