मुंबई. महाराष्ट्र में सरकार बनाने को लेकर उथल-पुथल के बीच नेशनल कांग्रेस पार्टी के चीफ शरद पवार ने बड़ा बयान दिया है. एनसीपी के मुखिया शरद पवार ने कहा कि लोगों ने देवेंद्र फड़णवीस की भाजपा और उद्धव ठाकरे की शिवसेना को जनादेश मिला है इसलिए उन्हें जल्द से जल्द सरकार बनानी चाहिए.

शरद पवार ने आगे कहा कि कांग्रेस और एनसीपी विपक्ष की भूमिका रहेंगे. शरद पवार ने कहा है कि यही आखिरी तरीका है राष्ट्रपति शासन से बचाव करने के लिए.

एनसीपी और शिवसेना की गठबंधन सरकार पर शरद पवार ने कहा कि इसका तो कोई सवाल ही नहीं उठता. शरद पवार ने आगे कहा कि भाजपा और शिवसेना पिछले 25 सालों से साथ हैं और कल को वे फिर एक साथ आ सकते हैं.

एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने आगे कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी की भारतीय जनता पार्टी और दिवंगत बाल ठाकरे की शिवसेना के पास सिर्फ सरकार बनाने का रास्ता बचा है. इसके अलावा और कोई भी रास्ता नहीं जिससे राज्य में राष्ट्रपति शासन लागू होने से रोका जाए.

शिवसेना से राज्यसभा सांसद संजय राउत से मुलाकात को लेकर शरद पवार ने कहा कि आज संजय राउत ने मेरे से मुलाकात की और आने वाले राज्यसभा के सत्र को लेकर चर्चा की. शरद पवार ने कहा कि हमनें कुछ उन मुद्दों पर बात की जिनपर हमारी समान विचारधारा है.

बीजेपी-शिवसेना की सरकार बनाने को लेकर भिड़ंत जारी 

महाराष्ट्र में बीजेपी-शिवसेना की सरकार बनाने को लेकर लगातार भिड़ंत जारी है.  शिवसेना ने साफ कर दिया है कि अगर बीजेपी और शिवसेना की साथ सरकार बनेगी तो ढ़ाई साल शिवसेना का मुख्यमंत्री होगा और सभी विभागों का आधा बंटवारा किया जाएगा.

शिवसेना का कहना है कि बीजेपी ने लोकसभा चुनाव से पहले ही विधानसभा चुनाव को लेकर जीत के बाद 50-50 फॉर्मुले पर सरकार बनाने की बात की थी. शिवसेना अब भी अपनी बात पर टिकी हुई.  

हालांकि, बीजेपी ने किसी भी तरह के फॉर्मुले को इनकार कर दिया है. महाराष्ट्र सीएम देवेंद्र फड़णवीस साफ कह चुके हैं कि सूबे में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनेगी और वे ही अगले पांच साल मुख्यमंत्री रहेंगे. 

Maharashtra Shiv Sena NCP Coalition: महाराष्ट्र में शिवसेना को समर्थन से पहले शरद पवार की पार्टी एनसीपी ने रखी बीजेपी से गठबंधन तोड़ने की शर्त

Maharashtra Shiv Sena Chief Minister: महाराष्ट्र में बढ़ी शिवसेना बीजेपी में तनातनी, आदित्य ठाकरे फॉर CM के लगे पोस्टर, संजय राऊत ने कहा हमारा ही होगा मुख्यमंत्री

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App