नई दिल्ली. शाहजहांपुर मामले में बीजेपी नेता स्वामी चिन्मयानंद पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाने वाली लॉ छात्रा को आज सुप्रीम कोर्ट में पेश किया गया. सुप्रीम कोर्ट में उक्त छात्रा ने सभी पूछे गए सवालों के जवाब दिए. उसने बताया कि वह अपनी जान बचाने के लिए दोस्त के साथ चली गई थी. बता दें कि छात्रा अपने दोस्त के साथ राजस्थान में मिली थी. सुप्रीम कोर्ट ने अपने आदेश में दिल्ली पुलिस कमिश्नर को शांहजहांपुर से उसके मां-बाप को सुरक्षित दिल्ली लाने का आदेश दिया है. इसके साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने ऑल इंडिया वुमन कॉन्फ्रेंस में लड़की के रहने के इंतजाम के आदेश दिए हैं. इस दौरान लड़की से किसी को भी मिलने की इजाजत नहीं होगी जब तक कि उसके मां बाप नहीं आ जाते. जस्टिस आर भानुमति और जस्टिस बोपन्ना की बेंच ने इस सुओ मोटो याचिका की सुनवाई की.

दरअसल ये मामला उस वक्त सुर्खियों में आया था जब शाहजहांपुर में एलएलएम की छात्रा ने एक वीडियो पोस्ट कर बीजेपी के वरिष्ठ नेता और वाजपेयी सरकार में केंद्रीय मंत्री रहे स्वामी चिन्मयानंद पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया. युवती ने वीडियो में ये भी कहा था कि चिन्मयानंद ने उसकी और उसके जैसी कई लड़कियों की जिंदगी खराब कर दी है और अब उसे खुद की और घरवालों की जान की चिंता हो रही है.ये वीडियो पोस्ट होने के बाद युवती 24 अगस्त को अचानक हॉस्टल से गायब हो गई. शक की सुई स्वामी चिन्मयानंद पर घूमी लेकिन उन्होंने इस मामले पर कुछ भी कहने से मना कर दिया. इसके बाद छात्रा अपने एक दोस्त के साथ राजस्थान में मिली.  सुप्रीम कोर्ट ने स्वत: संज्ञान लेते हुए इस मामले की सुनवाई की है.

सुप्रीम कोर्ट ने क्या कहा

कोर्ट ने दिल्ली पुलिस कमिश्नर को आदेश दिया लड़की के मां बाप को सुरक्षित दिल्ली लाएं

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट में पीड़िता ने कहा कि उसे अपनी जान का खतरा था इसलिए वह अपने दोस्त के साथ राजस्थान चली गई थी. शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट इस मामले की सुनवाई के लिए बैठी. कोर्ट ने कहा कि हमने पीड़िता की बात सुनी. हम पीड़िता के माता पिता को दिल्ली लाने का आदेश जारी करते हैं. लड़की अपने मां-बाप से मिलना चाहती है. फिलहाल वह शाहजहांपुर नहीं जाना चाहती इसलिए उसके रहने का इंतजाम फिलहाल ऑल इंडिया वुमन कॉन्फ्रेंस करेगी. कोर्ट ने आदेश में लिखा कि पीड़िता ने जिम्मेदारी से सवालों के जवाब दिए. कोर्ट ने पीड़िता के मां-बाप के दिल्ली आने तक चार दिनों तक उसके दिल्ली में ही रुकने की व्यवस्था का आदेश जारी किया है. इस दौरान किसी को भी पीड़िता से मिलने की इजाजत नहीं होगी. 

Missing law Student From Shahjahanpur Found: बीजेपी नेता स्वामी चिन्मयानंद पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाने वाली युवती मिली, सुप्रीम कोर्ट ने दिया तुरंत कोर्ट में पेश करने का आदेश

Missing law Student From Shahjahanpur Found: बीजेपी नेता स्वामी चिन्मयानंद पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाकर लापता हुई छात्रा को पुलिस ने राजस्थान में दोस्त के साथ पकड़ा

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App