नई दिल्ली: देशभर में एकबार फिर कोरोना वायरस अपने पैर पसारने लगा है. बीते 24 घंटे में देशभर में कोरोना के 3157 नये मामलें सामने आए, जो शनिवार की तुलना में 5.0 फीसदी कम है. शनिवार को देश में कोरोना के 3,324 मामलें सामने आए थे. इस बीच कोरोना से जुड़े मामलों की सनुवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने सरकार के राष्ट्रव्यापी टीकाकरण अभियान की तारीफ की, लेकिन कोर्ट ने ये भी कहा कि किसी भी व्यक्ति को जबरदस्ती वैक्सीन नहीं लगवाई जा सकती। इसका मतलब ये है की यदि कोई व्यक्ति अपनी मर्ज़ी ने वैक्सीन लगवाता है तो वह उसका निजी फैसला है. लेकिन यदि कोई वैक्सीन के लिए सामने नहीं आता है तो यह पूर्ण से उसपर निर्भर करता है, इसके लिए सरकार लोगों पर वैक्सीनेशन का दबाव नहीं बना सकती।

इसके अलावा सुप्रीम कोर्ट ने ये भी कहा कि कोविड टीका न लगवाने वाले लोगों को सार्वजनिक सुविधाओं के इस्तेमाल से रोकने के आदेश राज्य सरकारों को हटा लेने चाहिए. साथ ही कोर्ट ने वैक्सीन के क्लिनिकल ट्रायल का आंकड़ा सार्वजनिक करने के लिए भी कहा है, ताकि लोग भी इसे समझ पाए.

20 राज्यों में दर्ज की गई बढ़ोतरी

भारत में पिछले 1 हफ्ते के भीतर 20,000 लोगों में कोरोना की पुष्टि हुई हैं. इससे पिछले हफ्ते 15,800 लोगों में कोरोना की पुष्टि हुई थी, जो इस हफ्ते की तुलना में 41% से अधिक है. देशभर में इस समय कोरोना के सबसे ज़्यादा केस राजधानी दिल्ली में है. जहां रोजाना कोरोना के 1,000 से 1,500 मामलें दर्ज किये जा रह है. रविवार को समाप्त हुए सप्ताह में देश के 20 राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों में कोरोना के नए केस में वृद्धि दर्ज की गई, जो बताता है कि देश में संक्रमण का प्रसार जारी है.

यह भी पढ़े:

गुरुग्राम के मानेसर में भीषण आग, मौके पर दमकल की 35 गाड़ियां

SHARE

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर