नई दिल्ली. भारतीय स्टेट बैंक, एसबीआई ने माइक्रो, लघु और मध्यम उद्यमों, आवास और खुदरा के लिए अपने सभी अस्थायी-आधारित ऋणों को बाहरी बेंचमार्क के रूप में रेपो दर से जोड़ दिया है. रेपो दर वह प्रमुख ब्याज दर है जिस पर भारतीय रिजर्व बैंक, आरबीआई वाणिज्यिक बैंकों को अल्पकालिक धन उधार देता है, यानि कि कर्ज जिस ब्याज पर देता है. रेपो रेट को बाहरी बेंचमार्क के रूप में अपनाने का मतलब है कि आरबीआई द्वारा प्रमुख ब्याज दर में कोई भी बदलाव सीधे ग्राहकों को दिया जाएगा.

रेपो दर पर एसबीआई का 2.65 प्रतिशत या 265 आधार अंकों का अंक है. आरबीआई ने 7 अगस्त को रेपो रेट में 35 आधार अंकों या 0.35 प्रतिशत अंकों की कटौती कर 5.40 प्रतिशत कर दिया था, जिससे अब आसबीआई की बेंचमार्क दर 8.05 प्रतिशत (5.40 प्रतिशत + 2.65 प्रतिशत) है. ये वेतनभोगी वर्ग के लिए 30 लाख रुपये तक के कर्ज के लिए है. एसबीआई बाहरी बेंचमार्क दर (ईबीआर) पर 15 आधार अंकों का प्रीमियम लेता है. बैंक की वेबसाइट के मुताबिक, प्रभावी होम लोन की दर अब 8.20 फीसदी (8.05 फीसदी + 0.15 फीसदी) है.

Know new Interest Rates for SBI Home Loans, जानें नई एसबीआई ब्याज दर

  • वेतनभोगी वर्ग के घर खरीदारों के लिए 30 लाख तक की लोन राशि की ब्याज दर- बाहरी बेंचमार्क दर (ईबीआर) + 15 आधार अंक, ईआर (प्रभावी दर): 8.20 प्रतिशत
  • वेतनभोगी वर्ग के घर खरीदारों के लिए 30 लाख रुपये से 75 लाख रुपये तक की लोन राशि की ब्याज दर- बाहरी बेंचमार्क दर (ईबीआर) + 40 आधार अंक, ईआर (प्रभावी दर): 8.45 प्रतिशत
  • वेतनभोगी वर्ग के घर खरीदारों के लिए 75 लाख रुपये से ज्यादा तक की लोन राशि की ब्याज दर- बाहरी बेंचमार्क दर (ईबीआर) + 50 आधार अंक, ईआर (प्रभावी दर): 8.55 प्रतिशत

Also Read, ये भी पढ़ें:RBI Cuts Repo Rate Monetary Policy: आरबीआई ने रेपो रेट में की 25 बेसिस प्वाइंट्स की कटौती, जीडीपी अनुमानित दर घटकर 6.1 फीसदी, जानें लोगों पर क्या पड़ेगा असर

एसबीआई ने जुलाई में फ्लोटिंग दर-आधारित होम लोन की शुरुआत की थी. एसबीआई ने कहा कि इसने नए नियामक दिशानिर्देशों का पालन करने के लिए योजना में संशोधन किया है. इस महीने की शुरुआत में, भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने बैंकों को उपभोक्ताओं को अपनी दरों में कटौती के तेजी से प्रसारण की अनुमति देने के लिए कर्ज को बाहरी बेंचमार्क आधारित ब्याज से जोड़ने के लिए अनिवार्य किया था.

Central Govt Employee HBA Interest Rates Reduced: केंद्रीय कर्मचारियों को नरेंद्र मोदी सरकार का तोहफा, हाउस बिल्डिंग एडवांस पर ब्याज दर घटाई, जानें क्या होगा फायदा

SBI Fixed Deposit Interest Rates: भारतीय स्टेट बैंक एसबीआई फिक्सड डिपॉजिट एफडी पर कितना देता है इंटरेस्ट, जानें ब्याज दरों की पूरी डिटेल

PNB Fixed Deposit Interest Rates Revised: पंजाब नेशनल बैंक पीएनबी ने बदले फिक्सड डिपॉजिट इंटरेस्ट एफडी रेट्स, जानें क्या होंगी नई ब्याज दरें

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर