Thursday, March 16, 2023

घोर लापरवाहीः चंदौली के जावेद की जगह सऊदी प्रशासन ने भेजा किसी और का शव

नई दिल्ली : सऊदी अरबिया प्रशासन की एक बड़ी लापरवाही सामने आई है. जहां एक व्यक्ति की मौत के बाद उसके शव को दूसरे व्यक्ति के साथ बदल दिया गया. मामला सामने आने पर परिजनों ने काफी नाराज़गी जताई है. आइए जानते हैं क्या है ये पूरी घटना.

परिजनों की नाराज़गी

सऊदी में कार्यरत चन्दौली निवासी जावेद की मौत के बाद सऊदी अरबिया प्रशासन ने उसके शव के बदले किसी और अन्य व्यक्ति का शव भिजवा दिया. जब परिजन वाराणसी एयर पोर्ट पर जावेद का शव लेने पहुंचे तो उनके होश ही उड़ गए. जब उन्होंने देखा तो कफ़न पर साजी राजन लिखा हुआ था.किसी अन्य व्यक्ति का शव पाने को लेकर नाराज़ परिजनों ने ट्वीट कर इंडियन एम्बेसी और विदेश मंत्री जयशंकर से शिकायत की है.

बीमारी के चलते हुई मौत

जानकारी के अनुसार चकिया के सिकंदरपुर निवासी जावेद सऊदी अरब की एक इलेक्ट्रॉनिक कंपनी में काम करते थे. वह बीते कुछ दिनों से बीमार था. इस दौरान इलाज के दौरान जावेद की मृत्यु हो गई. जावेद के परिजनों ने सरकार और अन्य लोगों से शव वापसी की अपील की. जहां डीडीयू नगर के सीओ अनिरुद्ध सिंह ने भी सोशल मीडिया के जरिये शव को भारत वापस लाने का प्रयास किया. जावेद के शव को भारत लाने की हर कोशिश काम भी आई.

लंबे प्रयास से मिलने जा रहा था शव

सऊदी अरब भारतीय दूतावास और विदेश मंत्रालय ने कई प्रयास किए. 30 सितंबर को जब वाराणसी के बाबतपुर एयर पोर्ट पर जावेद का शव लाया गया तो परिजनों की सारी मेहनत असफल हो गई. जांच में मालूम हुआ कि ये शव जावेद का नहीं बल्कि किसी अन्य व्यक्ति का है. जिसका नाम साजी राजन है. शव के कफ़न पर इसी नाम का स्टिकर लगा हुआ था. ताबूत में अपने भाई जावेद का शव ना पाकर मृतक जावेद के भाई नदीम जलाल इदिरसी ने सीधे तौर पर इसे सऊदी प्रशासन की लापरवाही बताया है. और विदेश मंत्री एस जय शंकर और इंडियन एम्बेसी को इस मामले की जानकारी दी है. इसके अलावा मामले में प्रयासरत रहे सीओ अनिरुद सिंह ने भी सऊदी दूतावास को ट्वीट कर संज्ञान में लेने की बात कही है.

यह भी पढ़ें-

Russia-Ukraine War: पीएम मोदी ने पुतिन को ऐसा क्या कह दिया कि गदगद हो गया अमेरिका

Raju Srivastava: अपने पीछे इतने करोड़ की संपत्ति छोड़ गए कॉमेडी किंग राजू श्रीवास्तव

Latest news