पटना. भारतीय रेलवे की ट्रेनों, स्टेशनों और उत्पादन इकाइयों के निजीकरण के केंद्र के कदम के खिलाफ सैकड़ों युवाओं, ज्यादातर छात्रों ने विरोध प्रदर्शन किया. हाथों में तख्तियां और बैनर लेकर प्रदर्शनकारियों ने नारेबाजी के साथ बिहार के रोहतास जिले के सासाराम रेलवे स्टेशन पर रेलवे के निजीकरण के विरोध में आवाज उठाई. प्रदर्शनकारी युवकों ने चार घंटे से अधिक समय तक ट्रेनों को जबरन रोका. कुछ नाराज प्रदर्शनकारी स्टेशन पर मंच और कार्यालयों में भी घुस गए. उन्होंने रेलवे का निजीकरण बंद करो, रेलवे जनता की है, रेलवे को बेचना बंद करो जैसे नारे लगाए. उन्होंने आने वाले दिनों में राज्य के सभी रेलवे स्टेशनों पर प्रदर्शनों को तेज करके अपना विरोध प्रदर्शन तेज करने की धमकी दी है. बिहार में रेलवे के निजीकरण के खिलाफ इस तरह का पहला युवा विरोध है, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली एनडीए सरकार ने सार्वजनिक क्षेत्र के कई उपक्रमों का निजीकरण शुरू कर दिया है.

प्रदर्शनकारियों ने कहा कि, हम अब और चुप नहीं बैठेंगे. हम रेलवे के निजीकरण के खिलाफ विरोध करेंगे, क्योंकि यह सरकारी नौकरी की हमारी आशा को नष्ट कर देगा. उन्होंने कहा, मोदी सरकार हजारों गरीबों की कीमत पर कुछ अमीर लोगों के हितों की सेवा करने के लिए रेलवे का निजीकरण करने पर तुली हुई है. भारतीय रेलवे युवाओं को सरकारी नौकरियों का सबसे बड़ा प्रदाता रहा है. यदि इसका निजीकरण किया जाता है, तो हमारे लिए कुछ भी नहीं छोड़ा जाएगा. हम मोदी सरकार को रेलवे के निजीकरण की अनुमति नहीं देंगे. जिला पुलिस अधिकारियों के अनुसार, रेलवे स्टेशन पर विरोध प्रदर्शन ने ट्रेन सेवाओं को बाधित कर दिया है और मुगलसराय-गया रूट पर विभिन्न रेलवे स्टेशनों पर सैकड़ों यात्री फंसे हुए हैं.

रोहतास के डीएम पंकज दीक्षित और एसपी सत्यवीर सिंह ने केंद्र को अपना विरोध ज्ञापन सौंपने का आश्वासन देने के बाद भी युवाओं ने अपना विरोध प्रदर्शन समाप्त नहीं किया. प्रदर्शनकारी युवकों को खदेड़ने के लिए पुलिस ने लाठीचार्ज का सहारा लिया है. पुलिस ने 18 लोगों को गिरफ्तार भी किया है. अतिरिक्त सुरक्षा बलों ने स्टेशन को एक किले में बदल दिया. बिहार में युवाओं के बीच सरकारी नौकरियों में सबसे अधिक मांग वाली रेलवे नौकरियां बनती हैं और रेलवे भर्ती परीक्षाओं में अधिकांश आवेदक राज्य के होते हैं.

Also read, ये भी पढ़ें: Ramdas Athawale Advice Shiv Sena: महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए राज्यपाल से अलग-अलग मिलेंगे शिवसेना बीजेपी, रामदास अठावले ने शिवसेना को दी उपमुख्यमंत्री पर मानने की सलाह, संजय राउत ने कहा- दिवाली के बाद फूटेंगे असली पटाखे

Shivsena Hits BJP over Economic Slowdown: दिवाली पर इतना सन्नाटा क्यों? शिवसेना ने आर्थिक मंदी पर भाजपा को घेरा

Mumbai NCP President Nawab Malik Flyover Inauguration: मुंबई राकांपा अध्यक्ष नवाब मलिक ने रविवार को मुंबई में चूनाभट्टी-बीकेसी फ्लाईओवर का जबरन उद्घाटन करने की कोशिश की

Nagaland Manipur High Alert: नागालैंड-मणिपुर 31 अक्टूबर को करेंगे शांति वार्ता, दोनों राज्यों में हाई अलर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App