मुंबई: सीएम पद को लेकर हाल ही में एनडीए का साथ छोड़ एनसीपी और कांग्रेस गठबंधन से महाराष्ट्र में सरकार बनाने जा रही शिवसेना ने बीजेपी पर हमला बोलना शुरू कर दिया है. शिवसेना सांसद संजय राउत ने शनिवार को बीजेपी के खिलाफ बोलते हुए कहा कि बीजेपी के नेतृत्व वाली एनडीए जिस तरीके से काम कर रही है उसे देखते हुए साफ कहा जा सकता है कि पुरानी और नई एनडीए में काफी अंतर है. एनडीए के स्थायित्व पर सवाल उठाते हुए संजय राउत ने कहा कि एनडीए किसी एक पार्टी की बपौती नहीं है.

संजय राउत ने कहा कि चार नेताओं ने मिलकर एनडीए का गठन किया था जिनमें बाला साहेब ठाकरे, अटल बिहारी वाजपेयी, लाल कृष्ण आडवाणी और प्रकाश सिंह बादल शामिल थे. संजय राउत ने कहा कि एनडीए के संस्थापक सदस्यों में से एक लाल कृष्ण आडवाणी या तो पार्टी छोड़ चुके हैं या उन्हें किनारे कर दिया गया है. एनडीए के सवाल पर संजय राउत ने कहा कि समय-समय पर एनडीए के साथ पार्टियां जुड़ती गई जिनमें से कुछ पार्टियों की विचारधारा एनडीए की विचारधारा से बिलकुल अलग भी थी लेकिन फिर भी वो उसका हिस्सा बनी रही.

संजय राउत का बयान ऐसे समय में आया है जब राज्यसभा में शिवसेना सांसदों की कुर्सी बदलकर विपक्ष की तरफ कर दी गई है क्योंकि शिवसेना ने बीजेपी गठबंधन से बाहर आने का एलान कर दिया था. सूत्रों के मुताबिक संजय राउत और अनिल देसाई शीतकालीन सत्र के दौरान विपक्ष की तरफ बैठेंगे. शिवसेना के पास राज्यसभा में तीन सांसद हैं. संजय राउत ने भी कहा कि उन्हें इस बात का पता चला है कि दो सांसदों की कुर्सी का स्थान बदला गया है.

इससे पहले संजय राउत ने ये भी कहा था कि सोमवार से शुरू हो रहे संसद के शीतकालीन सत्र से पहले शनिवार को होने वाली सर्वदलीय बैठक में उनकी पार्टी हिस्सा नहीं लेगी. इससे पहले केंद्र सरकार में शिवसेना के कोटे से मंत्री अरविंद सावंत ने इस्तीफा दे दिया था और अब शिवसेना एनसीपी और कांग्रेस के साथ मिलकर महाराष्ट्र में सरकार बनाने जा रही है.

Maharashtra Shivsena NCP Congress Govt Formation Latest Updates: महाराष्ट्र में गठबंधन सरकार बनाने पर सहमति! शिवसेना का सीएम और एनसीपी-कांग्रेस से डिप्टी सीएम, शरद पवार ने दिया बड़ा बयान

Maharashtra Government Formation: महाराष्ट्र का सियासी संकट खत्म, न्यूनतम साझा कार्यक्रम के तहत शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस का गठबंधन

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App