नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने दूसरे कार्यकाल का पहला मंत्रिमंडल विस्तार किया है। इस विस्तार में जहां यूपी से कुछ चेहरों को जगह मिली है वहीं अब मंत्रिमंडल विस्तार में शामिल नहीं कराए जाने को लेकर बीजेपी की सहयोगी पार्टी नाराजगी जाहिर करने लगी हैं।

निषाद पार्टी के चीफ संजय निषाद ने बेटे प्रवीण को मंत्री नहीं बनाए जाने को लेकर बीजेपी को चेतावनी दी है। संजय निषाद ने कहा है, ‘’अगर अपना दल की अनुप्रिया पटेल को मंत्रिपरिषद में जगह मिल सकती है तो सांसद प्रवीण निषाद को क्यों नहीं? निषाद समुदाय के लोग पहले से ही बीजेपी को छोड़ रहे हैं और अगर पार्टी अपनी गलतियों में सुधार नहीं करती है तो उसे आगामी विधानसभा चुनाव में परिणाम भुगतने होंगे।’’

संजय निषाद ने आगे कहा, ‘’मेरे बेटे प्रवीण निषाद को 160 से ज्यादा सीटों पर लोकप्रियता हासिल है, जबकि अनुप्रिया पटेल को कुछ ही विधानसभा सीटों पर लोकप्रियता मिली है।’’ उन्होंने कहा कि मैंने बीजेपी चीफ जेपी नड्डा और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को अपने विचारों से अवगत करा दिया।

Know about Kaushal Kishor: कोरोना काल में योगी सरकार के प्रबंधन पर उठाए थे सवाल, जानें कौन है कौशल किशोर

Ashwini Vaishnav on Twitter : पदभार संभालते ही पहले दिन ही सूचना तकनीकी मंत्री अश्विनी वैष्णव की ट्विटर को चेतवानी- देश का कानून सबके लिए बराबर, सबको मानना होगा

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर