सहारनपुर. उत्तर प्रदेश के सहारनपुर जिले के भकाला गांव में 60 साल के दलित शख्स की हत्या के आरोप में गुरुवार को 4 गुर्जर युवकों को गिरफ्तार कर लिया गया. घटना बुधवार को हुई जब चार आरोपी- आशु उर्फ आदित्य, गोविंद ललित और अंकित नशे में धुत होकर 2 बाइक पर बैठकर घर जा रहे थे.

रास्ते में वे मृतक के घर के पास सड़क पर पड़ी खाट से टकरा गए. सहारनपुर सिटी के सर्किट अॉफिसर (सीओ) राजेंद्र कुमार सिंह ने कहा कि आरोपियों ने मृतक शुक्कर को गालियां देनी शुरू कर दी और बाकी 3 लोग खाट पर बैठ गए. शुक्कर का पोता सत्येंद्र ने उनके बर्ताव पर सवाल उठाए. इसके बाद दोनों समुदायों में झगड़ा हो गया.

चारों युवाओं ने इसके बाद दलित समुदाय पर गोलियां चलानी शुरू कर दीं. एक गोली शुक्कर के चेहरे पर लगी. इसके बाद उन्हें अस्पताल ले जाया गया, जहां उन्हें लाया हुआ मृत घोषित कर दिया गया. अन्य चार लोगों- रवि, उधम, ऋषिपाल और अमन को भी चोटें आई हैं. उनका इलाज जारी है और हालत स्थिर है.

इस घटना के बाद गांव में भारी पुलिसबल तैनात किया गया है. यह गुर्जर बहुल गांव है. सीओ ने कहा, चारों आरोपियों को गुरुवार को ही गिरफ्तार कर लिया गया. रामपुर मनिहरण पुलिस थाने के एसएचओ एसके राणा ने कहा कि चारों आरोपियों को स्थानीय कोर्ट में पेश किया गया. पुलिस ने उनके पास से तीन देसी कट्टे और चाकू बरामद कर लिए हैं.

इससे पहले यूपी के बांदा जिले के गिरवां थाना क्षेत्र के मसूरी गांव में मंगलवार और बुधवार की रात दो शराबी युवकों द्वारा चार की एक दलित बच्ची का अपहरण कर उसके साथ कथित तौर पर सामूहिक दुष्कर्म किए जाने की घटना के बाद से स्थिति तनावपूर्ण है. गांव में भारी पुलिस बल को तैनात कर दिया गया है. बेहोश पाई गई बच्ची कानपुर के हैलेट अस्पताल में भर्ती है. ग्रामप्रधान राजा सिंह यादव ने गुरुवार को बताया कि गांव में अब भी बेहद तनाव की स्थिति बनी हुई है. ग्रामीण कभी भी आक्रोशित होकर गलत कदम उठा सकते हैं.

पंजाबः होजरी कारोबारी से मर्सिडीज छीन कर बोले लुटेरे- रो मत, 10 दिन बाद लौटा देंगे तेरी कार

पाकिस्तान में हिंदू महिला सुनीता परमार ने रचा इतिहास, सिंध से निर्दलीय लड़ेगी प्रांतीय चुनाव

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App