सहारनपुर. उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में गाय के गोबर पर शुरू हुए विवाद में पत्रकार आशीष धीमान और उनके भाई की हत्या हो गई. सहारनपुर के माधव नगर मोहल्ले में रहने वाले पत्रकार आशीष धीमान का उनके पड़ोसी महिपाल के साथ सड़क पर गाय के गोबर फैलने पर विवाद शुरू हुआ. जल्द ही नौबत हाथापाई और लाठी डंडे बरसाने की आ गई. इसके बाद दिन दहाड़े महिपाल अपने बेटे गौरव के साथ आशीष के घर में घुसता है और ताबड़तोड़ गोलीबारी शुरू कर देता है. इस गोलीबारी में आशीष और उनके भाई की मौत हो गई है. महिपाल और उसका बेटा गौरव अभी तक फरार चल रहे हैं.

सहारनपुर के माधव नगर मोहल्ले में आशीष धीमान अपने परिवार के साथ रहते थे. उन्होंने गाय पाल रखी है. बारिश की वजह से गाय का फैलने पर उनके पड़ोसी महिपाल ने आशीष की मां के साथ अभद्रता कर दी. इसके बाद दोनों पक्षों में विवाद शुरू हो गया. इस बीच महिपाल ने आशीष के सिर पर डंडे से वार कर दिया. विवाद बढ़ता देख आशीष के मामा राजेंद्र कुमार उसे घर के अंदर ले गए. लेकिन थोड़ी ही देर में महिपाल अपने बेटे गौरव के साथ आशीष के घर में तमंचा लेकर घुसा. उसने पहले आशीष के भाई पर गोली चलाई जिसकी मौके पर ही मौत हो गई. इसके बाद उसने आशीष पर भी गोली दाग दी. पत्रकार आशीष ने अस्पताल में दम तोड़ दिया.

आशीष धीमान के मामा राजेंद्र कुमार ने महिपाल समेत छह लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है. मौके पर डीआईजी उपेंद्र अग्रवाल, एसएसपी दिनेश कुमार सहित तमाम आला अधिकारी पहुंच गए हैं और मामले की जांच में जुट गए हैं. खबर लिखे जाने तक आरोपी महिपाल और उसका बेटा गौरव पुलिस की गिरफ्त से बाहर थे. मामूली विवाद में पत्रकार आशीष धीमान और उनके भाई की हत्या ने कई यूपी की कानून व्यवस्था पर कई सवाल खड़े कर दिए हैं. उनके पड़ोसी महिपाल के पास बंदूक कहां से आई. क्या वह लाइसेंसी हथियार था या अवैध. दिन दहाड़े खुलेआम हत्या करने वाले बेखौफ अपराधी को पुलिस अभी तक पकड़ नहीं पाई है. आशीष और उसके भाई की मौत के बाद उसके परिवार में अब सिर्फ उसकी गर्भवती पत्नी और बूढ़ी मां रह गई हैं. आशीष के पिता की दो साल पहले कैंसर के चलते मृत्यु हो गई थी.

Ram Rahim Punishment Highlights: सीबीआई कोर्ट ने सुनाया फैसला, पत्रकार रामचंद्र छत्रपति हत्या मामले में राम रहीम को उम्र कैद की सजा

मामूली विवाद से गुस्साई प्रेमिका बनी कातिल, प्रेमी को घोंपा चाकू

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App