नई दिल्ली. Sadhvi Pragya Nathuram Deshbhakt Remark Controversy: नाथूराम गोडसे को देशभक्त बताकर विपक्ष के निशाने पर आई भोपाल से बीजेपी की सांसद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने संसद में माफी मांग ली है. सांसद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने संसद में कहा कि मेरे बयान को तोड़ मरोड़कर पेश किया गया है. अगर मेरे बयान से किसी को ठेस पहुंची है तो मैं माफी मांगती हूं. दरअसल महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को देशभक्त बताने पर कांग्रेस समेत विपक्षी पार्टियों के नेताओं ने साध्वी प्रज्ञा के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. कांग्रेस समेत विपक्ष ने लोकसभा स्पीकर ओम बिरला से मांग की है कि गोडसे को देशभक्त बताने वाली साध्वी प्रज्ञा को आयोग्य घोषित किया जाए. हमें माफी मंजूर नहीं है. इसके साथ ही बीजेपी ने साध्वी प्रज्ञा को आंतकी कहकर संबोधित करने पर राहुल गांधी पर कार्रवाई की मांग है. वहीं साध्वी प्रज्ञा ने राहुल गांधी के बयान को एक सांसद और साधु का अपमान बताया है.

बता दें कि संसंद में राहुल गांधी का नाम लिए बिना सांसद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने कहा कि एक सदस्य ने मुझे आतंकी कहा है. कोर्ट में मेरे खिलाफ कोई आरोप साबित नहीं हुआ है. इसके बावजूद मुझे आतंकी कहना गैरकानूनी है. यह एक महिला, एक संन्यासी और एक सांसद का अपमान है. मुझे अपमानित करने का प्रयास किया गया. बीजेपी सांसद निशिकांत दूबे ने साध्वी प्रज्ञा को आंतकी कहने पर राहुल गांधी के खिलाफ प्रीविलेज मोशन लाने की मांग की है. इसके साथ ही केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा कि राहुल गांधी के पास कोई अधिकार नहीं है कि बिना आधार के किसी भी माननीय सदस्य को आतंकवादी कहें. उन्हें देश और सदन से तुरंत माफी मांगनी चाहिए.

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा था कि आतंकी साध्वी प्रज्ञा ने आतंकी गोडसे को देशभक्त बताया, भारत की संसद के इतिहास में ये एक दुखद दिन है. इससे पहले राहुल ने कहा था कि मैं उस महिला के बारे में नहीं बोलना चाहता. यह आरएसएस औ बीजेपी की आत्मा में हैं. वह कहीं ना कहीं से निकलेगा. मैं अपना समय खराब नहीं करना चाहता. उनके ऊपर एक्शन लेना चाहिए.

विपक्ष ने संसद से सड़क तक जमकर किया हंगामा-

गोडसे को देशभक्त कहने पर साध्वी प्रज्ञा के खिलाफ कांग्रेस समेत विपक्षी पार्टियों ने मोर्चा खोल दिया है. संसद में साध्वी प्रज्ञा के विरोध विपक्ष की तरफ से महात्मा गांधी की जय और डाउन डाउन गोडसे के नारे लगाए गए. वहीं यूथ कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने साध्वी प्रज्ञा के खिलाफ दिल्ली में प्रदर्शन किया है. लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि हमारी सिर्फ एक मांग है कि सांसद को अयोग्य घोषित किया जाए.

लोकसभा स्पीकर ओम बिरला ने मामले का राजनीतिकरण नहीं करने की दी हिदायत

साध्वी प्रज्ञा के खिलाफ विपक्ष के हंगामे पर बोलते हुए लोकसभा स्पीकर ओम बिरला ने कहा कि सिर्फ भारत ही पूरी दुनिया महात्मा गांधी के सिद्धांतों का पालन करती है. हमें इस मामले का राजनीतिकरण नहीं करना चाहिए अगर हम ऐसा करेंगे तो इसका दुनिया में संदेश अच्छा नहीं जाएगा. हमने सांसद के बयान को रिकॉर्ड से हटा दिया है. स्पीकर ने कहा कि संसद महात्मा गांधी की हत्या की महिमामंडन की इजाजत नहीं देगा. रक्षा मंत्री खुद इस पूरे मामले पर सदन में सफाई दे चुके हैं.

Congress MLA Threaten Sadhvi Pragya Thakur: कांग्रेस विधायक ने दी साध्वी प्रज्ञा ठाकुर को धमकी, कहा- मध्य प्रदेश में रखा कदम तो जला देंगे जिंदा

UP Mid Day Meal Crisis Social Media Reaction: यूपी के सोनभद्र में मिलावटी मिड डे मील पर हंगामा, नेताओं के साथ ही आम लोग भी बोले- सीएम योगी जी, पानी का नाम बदलकर दूध कर दीजिए

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App