नई दिल्ली: केरल स्थित सबरीमाला मंदिर मंगलवार को भारी सुरक्षा के बीच फिर से खोल दिया गया. मंदिर में महिलाओं के प्रवेश को लेकर फिर से हंगामे के आसार हैं, इसलिए मंदिर के आसपास के इलाकों में कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की गई है. राज्य प्रशासन ने पांबा और आसपास के इलाकों में अतिरिक्त सुरक्षा बलों की तैनाती की है, ताकि वे किसी तरह के हंगामे पर काबू कर सकें. मालूम हो कि सुप्रीम कोर्ट द्वारा 10 से 50 साल तक की महिलाओं के इस मंदिर में दर्शन की इजाजत दिए जाने के बाद केरल में काफी हंगामा हुआ था. हिंदूवादी संगठनों ने सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले का विरोध किया था. मंगलवार को मंदिर खुला और यह मलयालम महीने कुंबम के दौरान मासिक पूजा के लिए 17 फरवरी तक के लिए खुला रहेगा. सबरीमाला मंदिर में इन पांच दिनों के दौरान कालाभाभिषेकम, सहस्रकलसम और लक्षर्चना समेत कई खास कर्मकांड होंगे.

मालूम हो कि पिछले दिनों सुप्रीम कोर्ट में मामले की सुनवाई के दौरान सबरीमाला मंदिर के काम संभालने वाले त्रावणकोर देवास्वोम बोर्ड ने यू टर्न लेते हुए कहा था कि उन्होंने सुप्रीम कोर्ट के फैसले को मान लिया है, जिसमें कहा गया था कि सभी उम्र की महिलाओं को मंदिर में एंट्री की इजाजत दी जाए. इससे पहले इस बोर्ड ने मंदिर में महिलाओं की एंट्री का विरोध किया था.
काफी हंगामे के बीच बीते दिनों दो महिलाओं ने सबरीमाला मंदिर में दर्शन किए. इस दौरान पुलिस का पहरा रहा. सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश को लेकर राज्य भर में प्रदर्शन हुआ था.

https://www.youtube.com/watch?v=AaA1siaVeAI

Rafale Deal CAG Report: नरेंद्र मोदी सरकार ने संसद में पेश किया राफेल डील का कैग रिपोर्ट, विपक्ष ने की जेपीसी की मांग

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App