मसूरी/नई दिल्लीः उत्तराखंड के मसूरी स्थित आईएएस-आईपीएस ट्रेनिंग सेंटर लाल बहादुर शास्त्री नेशनल एकैडमी ऑफ एडमिनिस्ट्रेशन (LBSNAA) में मंगलवार को बॉलीवुड अभिनेत्री स्वरा भास्कर को देश की प्रतिष्ठित सेवा आईएएस-आईपीएस के प्रशिक्षुओं को लेक्चर देने के लिए बुलाया गया था. स्वरा भास्कर को ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट में बुलाने पर राइट विंग एक्टिविस्ट्स भड़क गए. जानी-मानी दक्षिणपंथी विचारक और लेखक शेफाली वैद्य ने कार्मिक मंत्रालय के प्रभारी जितेंद्र सिंह से इस पर नाराजगी जाहिर करते हुए पूछा है कि किस आधार पर स्वरा भास्कर को वहां बुलाया गया था.

दक्षिणपंथी विचारक शेफाली वैद्य ने आलोक भट्ट नामक ट्विटर यूजर के ट्वीट को री-ट्वीट करते हुए स्वरा भास्कर को LBSNAA बुलाए जाने पर नाराजगी जाहिर की. शेफाली वैद्य ने ट्वीट करते सरकार से पूछा, ‘केंद्र सरकार की ओर से किसने स्वरा भास्कर को लाल बहादुर शास्त्री ट्रेनिंग सेंटर में आमंत्रित किया. उनकी क्या साख और उपलब्धियां हैं. क्या उन्हें अगली पीढ़ी के ब्यूरोक्रैट्स का ब्रेनवॉश करने के लिए बुलाया गया है ताकि वह उनके दिमाग को भी हिंदू विरोधी कचरे में बदल दें?’

शेफाली वैद्य का गुस्सा यहीं नहीं थमा. उन्होंने कार्मिक मंत्रालय और इसके प्रभारी राज्यमंत्री जितेंद्र सिंह को ट्विटर पर टैग करते हुए पूछा कि मंत्रालय ने किस आधार पर यह तय किया कि LBSNAA में कौन स्पीच देगा और कौन नहीं. स्वरा भास्कर को वहां बुलाने के लिए आखिर उनके किस योगदान को आंका गया. बता दें कि आलोक भट्ट ने स्वरा भास्कर और अविनाश दास की फोटो को शेयर करते हुए ट्वीट किया था कि जो (स्वरा भास्कर) दिन-रात प्रधानमंत्री और सेना अध्यक्ष को गालियां देती हैं वह LBSNAA में भावी ब्यूरोक्रैट्स को लेक्चर दे रही हैं.

गौरतलब है कि हाल ही में बॉलीवुड अभिनेत्री ऋचा चड्ढा ने एक इंटरव्यू में कहा था कि स्वरा भास्कर लेफ्ट की विचारधारा से प्रभावित हैं और वह एक्सट्रीम लेफ्टिस्ट हैं. ऋचा चड्ढा ने बताया था कि स्वरा भास्कर स्कूल-कॉलेजों के दिनों से ही नारेबाजी और प्रदर्शन किया करती थीं.

कठुआ गैंगरेप: वीरे दी वेडिंग एक्ट्रेस का सोशल मीडिया पर विरोध, यूजर्स बोले- फिल्म के लिए घिनौना स्टंट

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App