रांची. फेसबुक पर भड़काऊ धार्मिक टिप्पणी करने के कारण जेल में बंद छात्रा रिचा भारती को जमानत देने के लिए न्यायिक मजिस्ट्रेट मनीष सिंह ने एक अदभुत फैसला सुनाया. उन्होंने कहा कि मुस्लिमों के खिलाफ टिप्पणी करने वाली ऋचा भारती को जमानत उसी सूरत में मिल सकती है अगर वो पांच कुरान की प्रतियां अलग-अलग संस्थानों में बांटे. अदालत ने कहा कि सदर अंजुमन इस्लामिया के अलावा चार अन्य स्कूल की लाइब्रेरी में रिचा को कुरान की प्रतियां बांटनी पड़ेंगीं और उसकी रसीद 15 दिनों के अंदर अदालत में जमा करनी पड़ेगी. हालांकि ऋचा भारती नाम की छात्रा ने इस शर्त को मानने से इनकार कर दिया है. यह मामला सोशल मीडिया पर काफी सुर्खियां बंटोर रहा है. #RichaBharti ट्विटर पर ट्रेंड कर रहा है. 

ऋचा भारती ने फेसबुक पर एक भड़काऊ पोस्ट डाली थी जिसके बाद उन पर पिथोरा थाने में मामला दर्ज हुआ था. इसके बाद पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर जेल में डाल दिया. इसके बाद स्थानीय लोगों ने और कुछ हिंदू संगठनों ने धरना प्रदर्शन किया. शनिवार को पिथोरा थाने के सामने भी धरना प्रदर्शन हुआ. एसपी आशुतोष शेखर ने जब लोगों को आश्वासन दिया कि ऋचा को जल्द ही रिहा कर दिया जाएगा तब जाकर धरना खत्म हुआ. अदालत के फैसले पर ऋचा भारती का कहना है कि वह इस फैसले से खुश नहीं है. ऋचा ने कहा, “आज कुरान बांटने को कहा जा रहा है कल को कुछ और भी बोला जा सकता है कि नमाज पढ़ो. मैं अपने परिवार से बात कर रही हूं. हम लोग आपस में विचार कर रहे हैं. हम यह फैसला नहीं मानेंगे.”

सोशल मीडिया पर लोग कर रहे हैं ऋचा भारती को सपोर्ट
सोशल मीडिया पर बड़ी संख्या में लोग ऋचा भारती के समर्थन में आ गए हैं. लोग फैसले की भी आलोचना कर रहे हैं. यह मामला धार्मिक रंग लेता जा रहा है. सोशल मीडिया यूजर्स सभी पार्टियों खासकर बीजेपी पर बहुत हमलावर हैं.

कुछ यूजर्स दे रहे हैं ऋचा भारती को इस फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में अपील करने की सलाह

कोर्ट का धार्मिक आदेश जारी करना नहीं भा रहा सोशल मीडिया यूजर्स को

अमेरिकी अदालतों की तर्ज पर जहां मामूली अपराध करने वाले शख्स को सुधारात्मक सजा के तौर पर इस तरह की सजाएं दी जाती हैं यह फैसला सामने आया. लेकिन जिस तरह से सोशल मीडिया पर लोगों की प्रतिक्रिया आ रही है, यह मामला अलग ही मोड़ लेता जा रहा है. सोशल मीडिया पर लोग इसे धार्मिक चश्मे से देख रहे हैं. ऋचा भारती ने भी फैसले को मानने से इनकार कर दिया है. ऐसे में यह देखना दिलचस्प  होगा कि आगे यह मामला क्या मोड़ लेता है.

WhatsApp Latest Update: रांची में व्हाट्सएप ग्रुप में भड़काऊ पोस्ट भेजने वाले लोगों और एडमिन के खिलाफ होगी एफआईआर, पुलिस ने जारी किया आदेश

WhatsApp Latest Update: सावधान! भारत के डेढ़ करोड़ एंड्रॉयड फोन पर मैलवेयर का हमला, व्हाट्सएप एप्लीकेशन हुई हैक- रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App