नई दिल्ली. रिलायंस जियो द्वारा कॉल चार्ज लगाने के बाद एक गुरुवार को एक बड़ा बयान जारी किया है. कंपनी के मुताबिक जिन ग्राहकों ने रिलायंस जियो में 9 अक्टूबर या उससे पहले रिचार्ज करा लिया है, उनका डेटा और कॉलिंग प्लान एक्सपायर होने तक मुफ्त कॉलिंग का फायदा मिलता रहेगा. यानी कि ऐसे यूजर्स एयरटेल, आइडिया, वोडाफोन और बीएसएनएल जैसी कंपनियों के नंबर पर फ्री कॉल कर सकेंगे. हालांकि 9 अक्टूबर के बाद यानी गुरुवार से जिन्होंने रिचार्ज कराया है उन्हें नॉन जियो नंबर्स पर फ्री कॉलिंग की सुविधा नहीं मिलेगी. उन्हें नॉन जियो नंबर्स पर 6 पैसे प्रति मिनट की दर से वॉइस कॉल चार्ज देना होगा. जियो यूजर्स आईयूसी, IUC (इंटर-कनेक्ट यूसेज चार्ज) टॉपअप खरीद कर सीमित समय के लिए मुफ्त कॉलिंग की सुविधा ले सकते हैं.

मुकेश अंबानी की रिलायंस जियो कंपनी ने मार्केट में खुद को स्थिर बनाए रखने के लिए बुधवार को दूसरे नेटवर्क पर फ्री कॉलिंग की सुविधा हटा दी. जियो ने बयान जारी कर कहा कि जियो की मुफ्त वॉइस कॉलिंग सुविधा आने के बाद अन्य कंपनी के करीब 35-40 करोड़ उपभोक्ता जियो ग्राहकों को मिस्ड कॉल मार रहे हैं.

इसके बाद जियो ग्राहक उन नंबर पर दोबारा फोन कर बात करते हैं. इसके एवज में जियो कंपनी को तीन साल में एयरेटल, आइडिया और वोडाफोन जैसी कंपनियों को 13,500 करोड़ रुपये का आईयूसी चार्ज देना पड़ा. इससे कंपनी को आर्थिक नुकसान हो रहा है.

वर्तमान में ट्राई (टेलीकॉम रेगुलेटरी ऑथोरिटी ऑफ इंडिया) द्वारा आईयूसी चार्ज 6 पैसा प्रति मिनट लागू है. 2017 में ट्राई ने इसे 14 पैसे से घटाकर 6 पैसे प्रति मिनट कर दिया था. यानी कि जियो यूजर्स यदि किसी अन्य नेटवर्क पर फ्री कॉल करते हैं तो कंपनी को दूसरे नेटवर्क प्रदाता को 6 पैसा प्रति मिनट के हिसाब से भुगतान करना पड़ता है.

Reliance Jio IUC Top-up Plans-

रिलायंस जियो कंपनी अपने ग्राहकों के लिए आईयूसी टॉप-अप प्लान लेकर आई है. इसमें 10 रुपये से शुरू हैं. 10 रुपये के रिचार्ज पर 124, 20 रुपये पर 249, 50 रुपये पर 656 और 100 रुपये के टॉप-अप पर 1,362 मिनट तक नॉन जियो यूजर्स पर फ्री कॉल कर सकते हैं. वैधता खत्म होने पर ग्राहकों को प्रति मिनट 6 पैसे देने होंगे.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर