मुंबई. RBI Restrictions PMC Bank 1000 Cash Withdrawals: भारतीय रिजर्व बैंक ने मुंबई से चलने वाले पंजाब और महाराष्ट्र कोऑपरेटिव बैंक के खातों से अगले छह महीने तक 1000 रुपए से ज्यादा की निकासी पर रोक लगा दी है. पीएमसी बैंक में सेविंग, करेंट या किसी भी तरह का एकाउंट रखने वाले खाताधारक 23 सितंबर से छह महीने तक मात्र 1000 रुपए ही निकाल पाएंगे. महाराष्ट्र, दिल्ली, कर्नाटक, गोवा, गुजरात, आंध्र प्रदेश और मध्य प्रदेश में 137 ब्रांच के जरिए बैंकिंग कारोबार कर रहे पीएमसी बैंक पर बैड लोन और वित्तीय गड़बड़ी के आरोप में रिजर्व बैंक ने ये प्रतिबंध लगाया है. रिजर्व बैंक ने ये साफ किया है कि बैंक का लाइसेंस कैंसिल नहीं किया गया है. वहीं बैंक के एमडी जॉय थॉमस ने ग्राहकों से ना घबराने की अपील में बयान जारी करके बैंक के खराब हालात की जवाबदेही ली है और कहा है कि जो गड़बड़ी हैं उन्हें रिजर्व बैंक के 6 महीने की मियाद से पहले ठीक कर लिया जाएगा.

रिजर्व बैंक ने पीएमसी बैंक पर जो छह महीने का प्रतिबंध लगाया है उस दौरान बैंक ना कोई लोन देगा, ना एडवांस और ना ही कहीं कोई निवेश करेगा. पीएमसी बैंक इस दौरान कोई नया जमा भी नहीं लेगा और देनदारी चुकता करने की हालत में भी ऐसा कुछ भी करने से पहले रिजर्व बैंक से इजाजत लेगा. 1984 में मुंबई से शुरू हुए पीएमसी बैंक की देश भर के सात राज्यों में 137 शाखाएं हैं और मार्च, 2019 तक के आंकड़ों के हिसाब से इसके पास आम लोगों और कंपनियों का 11617 करोड़ रुपया जमा है. बैंक ने पिछले वित्त वर्ष में 99.69 करोड़ का मुनाफा घोषित किया था जो उसके पहले साल भी 100.90 करोड़ था. डूबंत खातों में बैंक का एनपीए 2.19 परसेंट है.

पीएमसी बैंक के ब्रांच बंद, शटर गिरा देख ग्राहकों में हाहाकार, मुंबई में रो रहे परेशान कस्टमर

रिजर्व बैंक के आदेश के बाद मुंबई समेत देश भर में पीएमसी बैंक पहुंचे ग्राहकों को कई जगह बैंक का शटर बंद मिला और जहां खुला मिला वहां कोई ये बताने वाला नहीं है कि उनके खाते से छह महीने में 1000 रुपए से ज्यादा कैसे निकलेगा. बैंक में आम लोगों ने सिर्फ बचत या करेंट खाता नहीं बल्कि सैलरी एकाउंट भी रखा है. सोशल मीडिया पर रंजन तेंदुलकर, विजय गुप्ता और दिेनेश मेहता जैसे लोगों ने लिखा है कि उनकी सैलरी एकाउंट पीएमसी बैंक में है जिसमें सैलरी आएगी पर वो छह महीने में मात्र एक हजार रुपया ही निकाल पाएंगे तो छह महीना घर कैसे चलाएंगे.

पीएमसी बैंक में किसी की सैलरी एकाउंट फंसी तो किसी की बेटी की शादी के लिए जमा पैसा (RBI Restrictions PMC Bank 1000 Cash Withdrawals)

बैंक में 11000 करोड़ रुपए से ज्यादा जमा है जो जाहिर तौर पर आम लोगों का है. उनमें कई ऐसे खाताधारक हैं जिनके घर अगले छह महीने के अंदर शादी-ब्याह या कोई और ऐसा काम है जिसके लिए उन्होंने पैसे जमा किए थे. रिजर्व बैंक के आदेश में छह महीने तक एक हजार से ज्यादा नहीं निकालने के रोक में कोई छूट नहीं दी गई है. मुंबई के ही प्रफुल्ल शाह ने ट्वीटर पर लिखा है कि बेटी की शादी के लिए बैंक में 25 लाख जमा रखे थे जो अब फंस गया है.

मुंबई की ही भूमिका ठक्कर ने ट्वीट किया है कि नवंबर में उनके कजिन की शादी है और शादी के खर्च के लिए जुटाया गया पैसा पीएमसी बैंक में जमा है. भूमिका ने आरबीआई से पूछा है कि ये शादी कैसे होगी. मुंबई, पुणे जैसे शहरों से बैंक के बाहर और अंदर ग्राहकों की भारी भीड़ और हंगामे के वीडियो सोशल मीडिया पर लगातार आ रहे हैं जिसमें कुछ लोग रोते-बिलखते नजर आ रहे हैं.

क्या नरेंद्र मोदी के कार्यकाल में मंदी की तरफ जा रही है भारतीय अर्थव्यवस्था, जीडीपी के गिरते दर का संकेत समझें

जीडीपी के आंकड़ो पर बीजेपी सांसद सुब्रमण्यम स्वामी बोले, 5 ट्रिलियन की अर्थव्यवस्था भूल जाओ, सरकार के पास ना साहस है ना ज्ञान

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर