अहमदाबाद: राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत ने पत्रकारों के सवाल के जवाब में कहा है कि मैं बोलूंगा तो मेरी नौकरी चली जाएगी. दरअसल राजकोट में जब पत्रकारों ने मोहन भागवत से सवाल पूछने की कोशिश की तो मोहन भागवत ने हंसते हुए कहा कि मैं कुछ बोलूंगा तो मेरी नौकरी चली जाएगी.

मोहन भागवत अखिल भारतीय प्रांत प्रचारकों की सालाना बैठक में शामिल होने राजकोट पहुंचे थे जहां ये वाक्या हुआ. मोहन भागवत के साथ सह सरकार्यवाहक मनमोहन वैद्य भी मौजूद थे. तीन दिनों तक चलने आरएसएस की बैठक में संघ के सर कार्यवाहक भैयाजी जोशी के अलावा सह सर कार्यवाहक, कार्यकारिणी सदस्य, प्रांत और सह प्रांत प्रचारक हिस्सा लेंगे. माना जा रहा है कि इस सम्मेलन में आगामी लोकसभा चुनावों से लेकर इस साल तीन राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनावों को लेकर भी चर्चा होगी.

मोहन भागवत का सोमनाथ मंदिर में पूजा-अर्चना का भी कार्यक्रम है. इसके बाद वो सोमनाथ में ही आरएसएस के स्थानीय कार्यकर्ताओं से मुलाकात करेंगे. जानकारी के मुताबिक शुक्रवार को अमित शाह भी गुजरात पहुंच रहे हैं तो ऐसे में संभावना ये भी है कि दोनों नेताओं की गुजरात में ही मुलाकात भी हो.

हालांकि मोहन भागवत ने हास-परिहास करते हुए ही कहा कि मैं बोलूंगा तो नौकरी चली जाएगी. हालांकि इससे पहले भी वो पत्रकारों के सवालों का इसी अंदाज में जवाब दे चुके हैं लेकिन इस बार भागवत के बयान से राजनीतिक गलियारों में तरह-तरह की चर्चा शुरू हो गई कि संघ और पार्टी के बीच सब ऑल इज वेल है या नहीं? 

संघ प्रमुख मोहन भागवत मीडिया से हंसते हुए बोले- मैं बोलूंगा तो मेरी नौकरी चली जाएगी

संघ प्रमुख मोहन भागवत मीडिया से हंसते हुए बोले- मैं बोलूंगा तो मेरी नौकरी चली जाएगी

Posted by InKhabar on Thursday, 12 July 2018

पढ़ें- RSS का बयान- अयोध्या में सरयू किनारे राष्ट्रीय मुस्लिम मंच द्वारा नमाज और कुरान का आयोजन अफवाह

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के बाद अब रतन टाटा RSS प्रमुख मोहन भागवत के साथ साझा करेंगे मंच

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App