बड़वानीः मध्य प्रदेश में पुलिस की लापरवाही का एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है. बड़वानी की जिला अदालत में जज साहब ने रेप के एक आरोपी को दोषी करार देते हुए 10 साल की सजा सुनाई. सजा सुनते ही दोषी सभी के सामने कठघरे से कूदकर कोर्ट से फरार हो गया. पुलिस ने फरार अपराधी के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है. उसकी तलाश में जगह-जगह दबिश दी जा रही है.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, फरार रेपिस्ट का नाम विजय सोलंकी (28) है. राजपुर थाने के प्रभारी निरीक्षक राजेश यादव ने बताया कि विजय ने साल 2005 में एक नाबालिग लड़की से रेप किया था. राजपुर थाने में विजय के खिलाफ केस दर्ज किया गया था. अदालत में मामले की सुनवाई चल रही थी. विजय पिछले काफी समय से जमानत पर बाहर था. केस की सुनवाई पूरी होने के बाद मंगलवार को अदालत ने उसे दुष्कर्म का दोषी पाया.

जिला एवं सत्र न्यायाधीश समीर कुलश्रेष्ठ ने विजय को 10 साल सश्रम कारावास और 7 हजार रुपए जुर्माने की सजा सुनाई. जैसे ही विजय को सजा सुनाई गई वह कटघरे से कूदकर अदालत से फरार हो गया. वहां मौजूद पुलिसकर्मी उसके पीछे भागे लेकिन वह उनकी नजरों से ओझल हो गया. न्यायाधीश के निर्देश पर अदालत के मुंशी ने मंगलवार रात विजय के खिलाफ केस दर्ज कराया है. पुलिस विजय की तलाश में उसके ठिकानों पर दबिश दे रही है.

मुजफ्फरपुर बालिका आश्रय गृह केसः 2 अगस्त को लेफ्ट पार्टियों ने बुलाया बिहार बंद, RJD का समर्थन, प्रदेश अध्यक्ष बोले- सक्रिय रूप से हिस्सा लेंगे

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App