नई दिल्ली. यस बैंक के कोफाउन्डर राणा कपूर बैंक में अपनी उसकी हिस्सेदारी बेचने के लिए पेटीएम के साथ बातचीत कर रहे हैं. इस बारे में जानकारी सूत्रों ने दी है और दावा किया है कि वो इस चर्चा का हिस्सा थे. अगस्त में, कपूर ने जापान के सॉफ्टबैंक द्वारा समर्थित नोएडा-आधारित मोबाइल भुगतान स्टार्टअप के संस्थापक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी विजय शेखर शर्मा से मुलाकात की और यस बैंक में अपनी और साथ में अपने परिवार की हिस्सेदारी 1,800 करोड़ रूपये से 2,000 करोड़ रूपये में बेचने की पेशकश की.

सूत्रों ने बताया कि कीमत और अन्य मुद्दों पर बातचीत जारी हैं. 62 वर्षीय कपूर, उनके परिवार के सदस्य और निवेश फर्म यस बैंक में 9.64 प्रतिशत हिस्सेदारी रखते हैं. 9 सितंबर को, यस बैंक के शेयर नेशनल स्टॉक एक्सचेंज, एनएसई पर 4.5 प्रतिशत बढ़कर 63.10 रुपये पर बंद हुए. बेंचमार्क निफ्टी इंडेक्स में 0.52 फीसदी और बैंक निफ्टी इंडेक्स में बढ़ोतरी हुई है, जिसमें यस बैंक 0.94 फीसदी ज्यादा है. मोहर्रम के लिए 10 सितंबर को शेयर बाजार बंद हैं.

मौजूदा मूल्यांकन में, कपूर और उनके परिवार के सदस्यों की हिस्सेदारी 1,550 करोड़ रुपये है. यदि यह सौदा हो जाता है, तो यह भारत के सबसे मजबूत बैंकरों में से एक के कैरियर का अंत और बैंकिंग क्षेत्र में एक अपस्ट्रीम सीरीयल उद्यमी के संभावित उदय को दर्शाएगा. दरअसल राणा कपूर पिछले कुछ सालों से परेशान हैं. 2015 में, उन्होंने बोर्ड की नियुक्ति पर सह-प्रवर्तक मधु कपूर से अदालती लड़ाई हारी और भारतीय रिजर्व बैंक, आरबीआई द्वारा येस बैंक के सीईओ और एमडी के रूप में बाहर निकाल दिए गए.

कपूर का परिवार सीधे यस बैंक में और निवेश फर्म यस कैपिटल और मॉर्गन क्रेडिट्स के माध्यम से स्टेक का मालिक है. उनकी बेटियां राखी, रोशनी और राधा निवेश कंपनियों की निदेशक हैं. कपूर ने इससे पहले 1,500 करोड़ रुपये में अनिल अंबानी की कंपनी रिलायंस निप्पॉन लाइफ एसेट मैनेजमेंट को मॉर्गन क्रेडिट्स की पूरी हिस्सेदारी देने का वादा किया था. उन्होंने 30 प्रतिशत राशि चुका दी है. एक दूसरे सूत्र ने कहा, उन्होंने रिलायंस से शेयर बेचने के लिए, रिलायंस निप्पॉन पर बकाया पैसे का भुगतान करने, और जो कुछ भी वह अपने पास रखते हैं उसे वापस लेने के लिए सहमति ली है.

Baldev Kumar Singh Slams Pakistan Imran Khan Government: इमरान खान सरकार के पूर्व विधायक बलदेव कुमार सिंह चाहते है भारत में शरण, बताया- पाकिस्तान में हिन्दू, सिख समेत सभी अल्पसंख्यक खतरे में

BJP CM In Bihar Not Nitish Kumar: बीजेपी नेता संजय पासवान ने कहा- बिहार में नीतीश कुमार 15 साल से सीएम हैं, अब भाजपा का मुख्यमंत्री बनना चाहिए

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App