Ram Mandir Bhoomi Poojan: अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए 5 अगस्त को होने वाले भूमि पूजन की तैयारियां जोरों पर है. भूमि पूजन होने के बाद राम मंदिर का निर्माण भी शुरू हो जाएगा. मंदिर का निर्माण पूरा होने में तीन से चार साल का वक्त लगेगा. मंदिर निर्माण के शुभारंभ कार्यक्रम को लेकर शासन-प्रशासन एकजुट होकर मुस्तैद है. डेप्युटी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने तैयारी को लेकर समीक्षा बैठक की.

कोरोना संकट के कारण भूमि पूजन में शामिल न हो पाने वाले लाखों राम भक्तों को मंदिर निर्माण से जोड़ने के लिए मंदिर निर्माण महायज्ञ का आयोजन किया जाएगा. श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपतराय ने कहा कि ट्रस्ट की भावना थी राम मंदिर भूमिपूजन कार्यक्रम में वे सारे लोग शामिल हों जिन्होंने राम मंदिर निर्माण आंदोलन प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप में सहयोग किया था. उन्होंने कहा कि भूमि पूजन का प्रसारण दूरदर्शन पर लाइव होगा. उन्होंने रामभक्तों से आग्रह किया कि शाम को अपने घर पर दीपक जलाकर दिव्य भव्य अवसर का स्वागत करें.

पीएम नरेंद्र मोदी के 5 अगस्त के अयोध्या दौरे पर सुरक्षा का प्लान तैयार किया गया है. खास तौर पर उन रास्तों पर जहां से पीएम मोदी राम जन्मभूमि परिसर में जाकर राम मंदिर निर्माण का शुभारंभ करेंगे. सुरक्षा का दायरा बढ़ा कर 7 जोन में कर दिया गया है. डीएम एके झा के मुताबिक सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए जा रहे हैं. यहां वीवीआईपी सुरक्षा व्यवस्था लागू रहेगी.

पीएम नरेंद्र मोदी के आगमन को लेकर अयोध्या में तैयारी जोरों पर हैं. 5 अगस्त को साढ़े 11 बजे पीएम मोदी अयोध्या में राम मंदिर का भूमि करेंगे. पीएम को 32 सेकंड के मुहूर्त में भूमि पूजन करना है. मंदिर निर्माण उल्टी गिनती शुरू हो गई है. राम नगरी को सजाया और संवारा जाने के साथ अयोध्या के प्रमुख मार्ग पर एक कलर से भवनों को रंगा जाने लगा है ,तो दूसरी तरफ साउंड सिस्टम के माध्यम से भक्ति संगीत और रामधुन गुंजायमान होने लगे हैं.

Rafale fighter jet Indian pilot Hilal Ahmad: मिलिए राफेल उड़ाने वाले पहले भारतीय पायलट हिलाल अहमद से जो अनंतनाग कश्मीर के रहने वाले हैं

Modi Government Change HRD Ministry Name: मोदी सरकार ने HRD मिनिस्ट्री का नाम बदला, नई शिक्षा नीति को दी मंजूरी

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर