जम्मू कश्मीर. Rajnath Singh On Kashmir Problem: भारत के रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने कश्मीर समस्या पर बड़ा बयान दिया है. दरअसल बॉर्डर रोड आर्गेनाइजेशन द्वारा बनाए गए उझ पुल का उद्घाटन करने पहुंचे रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि कश्मीर की समस्या का हल होकर रहेगा. दुनिया की कोई भी ताकत हमें ऐसा करने से रोक नहीं सकती है. अगर कोई बातचीत के रास्ते से कश्मीर की समस्या का समाधान नहीं होने देना चाहता है, तो हमें अच्छी तरह से पता है कि इसका हल कैसे निकाला जा सकता है. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने अपने इस बयान से जम्मू कश्मीर के अलगावादी संगठनों और उनके नेताओं को साफ संदेश दिया है.

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने अलगवादी संगठनों और उनके नेताओं को स्पष्ट संदेश देते हुए कहा कि जो लोग कश्मीर में आंदोलन चला रहे हैं, अगर वो समस्या का हल चाहते हैं, तो मैं उनसे अपील करता हूं कि कम से कम एक बार बैठें और बात करें. अपने मुद्दे हमारे सामने रखें और बताएं कि समस्या क्या है. अगर ऐसा होता है तो मुझे लगता है कि हम जल्द इस समस्या को हल करने में कामयाबी हासिल कर लेंगे. रक्षा मंत्री बनने के बाद से राजनाथ सिंह कई बार जम्मू कश्मीर जा चुके हैं. मोदी सरकार 2.0 लगातार घाटी के अलगाववादी नेताओं और संगठनों पर दबाव बनाए हुए है. अभी हाल ही में कई अलगाववादी नेताओं को गिरफ्तार भी किया गया था.

उझ पुल का उद्घाटन करने के बाद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए कहा इसमें किसी को संदेह नहीं होना चाहिए हम जम्मू कश्मीर को आंतकवाद मुक्त करके रहेंगे. विश्व विरादरी आंतकवाद के खिलाफ एकजुट है. मेरा मानना है कि जम्मू कश्मीर को जब आतंकवाद से छुटकारा मिल जाएगा, पूरे विश्व को भी आतंकवाद से छुटकारा मिल जाएगा. दरअसल राजनाथ सिंह ने यह जवाब उस सवाल के संबंध में दिया जिसमें उनसे पूछा गया था कि क्या वह सोचते हैं कि जम्मू कश्मीर आतंकवाद से मुक्त हो पाएगा.

पाकिस्तान द्वारा लगातार सीमा पर किए जा रहे सीजफायर उल्लंघन के सवाल पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि देश के नेतृत्व प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर भरोसा रखिए. अपने सैन्य अधिकारियों और सेना पर भरोसा रखिए. हम आपका विश्वास कभी नहीं तोड़ेंगे. उझ पुल के निर्माण में बॉर्डर रोड आर्गेनाइजेशन की भूमिका पर बोलते हुए रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि मेरी समझ से इस पुल के निर्माण की मांग लंबे समय से सीमा के पास रहे लोगों की तरफ से की जा रही थी. लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा था. बीआरओ के डीजी पहले ही कह चुके हैं कि यह उनके द्वारा बनाया गया सबसे लंबा पुल है. बीते दिन राजनाथ सिंह ने द्रास सेक्टर में स्थिति कारगिल वार मेमोरियल पर जाकर 1999 कारगिल युद्ध में शहादत देने वाले जवानों को श्रद्धांजलि दी थी.

Sheila Dikhsit Demise Arvind Kejriwal Trolled: दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित के निधन पर सीएम अरविंद केजरीवाल ने किया ट्वीट, लोगों ने कहा- घड़ियाली आंसू मत बहाओ

Sheila Dikshit Profile: जानिए कौन थीं लगातार तीन बार दिल्ली की मुख्यमंत्री रहीं शीला दीक्षित, कैसा रहा राजनीतिक करियर

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App