Wednesday, February 1, 2023
spot_img

गैंगस्टर राजू ठेठ के मर्डर की मास्टरमाइंड है ये लेडी डॉन! 10 साल तक की प्लानिंग

जयपुर : सीकर में दिनदहाड़े राजस्थान के गैंगस्टर राजू ठेठ की गोली मारकर हत्या कर दी गई. इस हत्या की जिम्मेदारी भी लॉरेंस बिश्नोई गैंग के गुर्गे रोहित ने ली.
है. शनिवार की सुबह धोरों की धरती कहलाने वाला राजस्थान का सीकर जिला गोलियों की तड़तड़ाहट से दहल गया. गोलियों की तड़तड़ाहट ने पूरे इलाके को गूंज से भर दिया. ये तब हुआ जब लॉरेंस बिश्नोई ग्रुप के गुर्गों ने गैंगस्टर राजू ठेठ के घर दस्तक दी.

ये है पूरा मामला

 

शनिवार की सुबह उस घटना ने पूरे इलाके में अफरातफरी मचा दी. बता दें, राजू ठेठ राजस्थान का बड़ा गैंगस्टर है जिसकी अब हत्या कर दी गई है. राजू अपने घर पर पीजी हॉस्टल का संचालन करता था. घटना को लेकर मिली जानकारी के अनुसार हमलावरों ने प्रिंस स्कूल के करीब वाहन की छिनैती की थी. इसी वाहन का इस्तेमाल कर ह्त्या की गई है. राजू ठेठ के पीजी पर घुसकर हमलावरों ने इस हत्या को अंजाम दिया. इस दौरान पीजी में रहने वाले एक छात्र के पिता की भी बदमाशों ने बेरहमी से हत्या कर दी. जानकारी के अनुसार जो व्यक्ति इस पूरी घटना का वीडियो बना रहा था उसके पैर में भी बदमाशों ने गोली मार दी है. पूरी घटना में कुल तीन लोगों को गली लगी है. पहला राजू ठेठ, दूसरा एक छात्र के अभिभावक और तीसरा घायल बताया जा रहा है.

 

घायल व्यक्ति विपक्षी भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के एक बड़े नेता का करीबी बताया जा रहा है.हिस्ट्रीशीटर रोहित गोदारा ने इस पूरी घटना की जानकारी दी है. अलग-अलग थानों में रोहित के खिलाफ कई आपराधिक मामले दर्ज हैं. हत्या के प्रयास के लिए ही गैंगस्टर रोहित गोदारा के खिलाफ 17 मामले दर्ज हैं.

10 साल से बन रहा था प्लान

हालांकि पुलिस द्वारा मिली जानकारी के अनुसार रोहित के लिंक की जांच की जा रही है. दूसरी ओर ख़बरों की मानें तो करीब 10 साल से राजू ठेठ कोमारने का प्लान बनाया जा रहा था. लॉरेस बिश्नोई के साथ ही आनंदपाल गैंग और काला जठेड़ी गैंग से जुड़े शूटर भी इस प्लान में शामिल थे. जिसका मतलब साफ़ है कि लंबे समय से राजू ठेठ इस गैंग के निशाने पर था.

जेल में कराया था हमला

जानकारी के अनुसार राजू ठेठ और एनकाउंटर में मारे जा चुके आनंदपाल के बीच रंजिश थी. इस चलते राजू ठेठ ने एक बार आनंदपाल पर तब भी हमला करवाया था जब वह जेल में बंद था. जेल के अंदर इस हमले में आनंदपाल बच गया था लेकिन एक शख्स की मौत हो गई थी.

लेडी डॉन अनुराधा की भूमिका

हालाँकि बात में आनंदपाल पुलिस एनकाउंटर में मारा गया था इसके बाद उसकी गर्लफ्रेंड लेडी डॉन अनुराधा, लॉरेंस बिश्नोई और काला जठेड़ी से हांथ मिला चुकी है. अब माना जा रहा है कि लॉरेंस और काला जठेड़ी गैंग ने मिलकर ही राजू की ह्त्या करवाई है. कहा तो ये भी जा रहा है कि इस घटना के पीछे असली खेल लेडी डॉन अनुराधा का ही है. बता दें, राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) ने लेडी डॉन अनुराधा को हाल ही में गिरफ्तार किया था. जिसके बाद अनुराधा से पूछताछ भी की गई थी.

पति फैलिक्स दीपक मिंज के साथ लेडी डॉन अनुराधा ने अपने सीकर में शेयर ट्रेडिंग शुरू किया था. लोगों ने घाटा होने पर अनुराधा पर दबाव बनाना शुरू किया, लेकिन उसने कुख्यात गैंगस्टर आनंदपाल से हाथ मिला लिया. अनुराधा ने अपराध की दुनिया का क-ख-ग यहीं से सीखा.

Latest news