Rajasthan Political Crisis: राजस्थान में चल रहे राजनीतिक ड्रामें आप बहुजन समाज पार्टी प्रमुख मायावती ने भी एंट्री कर दी है. बसपा सुप्रीम ने राजस्थान के राजनीतिक हालात को लेकर कांग्रेस पर जोरदार निशाना साधा है. मायावती ने कहा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने फोन टक कराकर अंसवैधानिक काम किया है. इतना ही नहीं उन्होंने राज्य में राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग की है.

मायावती ने ट्वीट कर कहा कि जैसा कि विदित है कि राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने पहले दल बदल कानून का खुला उल्लंघन व बसपा के साथ लगातार दूसरी बार दगाबजी करके पार्टी के विधायकों को कांग्रेस में शामिल कराया और अब जग जाहिर तौर पर फोन टैप कराके इन्होंने एक और गैर कानूनी व असंवैधानिक काम किया है.

बसपा सुप्रीमों ने दूसरे ट्वीट में लिखा कि इस प्रकार, राजस्थान में लगातार जारी राजनीतिक गतिरोध, आपसी उठा-पठक व सरकारी अस्थिरता के हालात का वहां के राज्यपाल को प्रभावी संज्ञान लेकर वहां राज्य में राष्ट्रपति शासन लगाने की सिफारिश करनी चाहिए, ताकि राज्य में लोकतंत्र की और ज्यादा दुर्दशा न हो.

शनिवार को ऑडियो टैप के मामले में संबित पात्रा ने भी कॉन्फ्रेंस की. इस. दौरान उन्होंने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, सोनिया गांधी और राहुल गांधी पर कई सवाल दागे. पात्रा ने राजस्थान सरकार सीना तान कर कह रही है कि ये ऑडियो टैप पूरी तरह सही है. ऐसे में उन्हें यह बताना चाहिए कि क्या राजस्थान में राजनैतिक पार्टियों के लोगों के ऑडियो टैप किए जा रहे है ? संबित पात्रा ने ऑडियो टेप को लेकर गहलोत से भी कई सवाल किए.

Rahul Gandhi Target Modi Government Foreign Policy: राहुल गांधी ने मोदी सरकार की विदेश नीति पर उठाए सवाल, जयशंकर बोले- भारत के सभी बड़े देशों से अच्छे रिश्ते

Rajasthan Political Crisis: हाई कोर्ट से हक में नहीं आता फैसला तो सचिन पायलट गुट के पास बचे हैं और कौन-कौन से विकल्प?

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर