झारखंड, अवैध खनन मामले में झारखंड की वरिष्ठ आइएएस अधिकारी पूजा सिंघल व उनसे जुड़े व्यक्तियों के 20 ठिकानों पर से प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की टीम ने शुक्रवार की सुबह करीब सात बजे से छापेमारी शुरू कर दी है. जानकारी के मुताबिक, ये ठिकाने झारखंड के रांची, खूंटी, राजस्थान के जयपुर, हरियाणा के फरीदाबाद व गुरुग्राम, पश्चिम बंगाल के कोलकाता, बिहार के मुजफ्फरपुर और दिल्ली एनसीआर में हैं. रिपोर्ट्स के मुताबिक़, पूजा सिंघल के आवास से ईडी ने भारी मात्रा में नकदी (करीब 25 करोड़) बरामद की है. ये पैसे पूजा और उसके पति के चार्टर्ड एकाउंटेंट (सीए) के यहां से किए गए हैं.

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की करीबी हैं पूजा सिंघल 

रांची में कांके रोड के चांदनी चौक स्थित पंचवटी रेजिडेंसी के ब्लाक नंबर नौ, लालपुर के हरिओम टावर स्थित नई बिल्डिंग, बरियातू के पल्स अस्पताल में प्रवर्तन निदेशालय के छापेमारी की जानकारी मिली है. आइएएस अधिकारी पूजा सिंघल के सरकारी आवास पर भी ईडी के छापेमारी की सुचना है. जानकारी के मुताबिक, कारोबारी अमित अग्रवाल के ठिकानों पर भी छापेमारी की गई है. कारोबारी अमित अग्रवाल मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन का करीबी बताया जा रहा है. फिलहाल, इस पूरे प्रकरण पर प्रवर्तन निदेशालय की अधिकारिक पुष्टि का इंतजार है.

पांच राज्यों में ईडी की छापेमारी

पांच शहरों में एक साथ दबिश कर प्रवर्तन निदेशालय को ये बड़ी कामयाबी हाथ लगी है. जानकारी के मुताबिक, ईडी की टीम ने शुक्रवार की सुबह छह बजे एक साथ पांच राज्यों में छापेमारी शुरू कर दी थी. प्रवर्तन निदेशालय की ये दबिश रांची, मुजफ्फरपुर, कोलकाता, दिल्ली व जयपुर में हुई है. बता दें कि 2000 बैच की आईएएस पूजा सिंघल खूंटी व चतरा में मनरेगा घोटाले में जांच के दायरे में है, इस मामले में भी उनके खिलाफ जांच की जा रही है. वहीं, ईडी ने पूर्व में मनरेगा घोटाले में जूनियर इंजीनियर रामविनोद सिन्हा के खिलाफ भी कार्रवाई की थी. 

 

केजरीवाल का नया प्लान: मुफ्त बिजली सबको नहीं, पूछेंगे विकल्प

SHARE

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर