नई दिल्ली. राहुल गांधी लगातार केंद्र सरकार पर लगाता हमला बोल रहे हैं.  उत्तर प्रदेश और बिहार के कुछ इलाकों से कोरोना संकट काल में नदियों में शवों के तैरने की तस्वीरें सामने आई हैं. मंगलवार को राहुल गांधी ने इसी मुद्दे के जरिए केंद्र सरकार पर एक बार फिर हमला किया.राहुल ने ट्वीट में  लिखा ‘नदियों में बहते अनगिनत शव अस्पतालों में लाइनें मीलों तक जीवन सुरक्षा का छीना हक़! PM, वो गुलाबी चश्में उतारो जिससे सेंट्रल विस्टा के सिवा कुछ दिखता ही नहीं.’

केंद्र सरकार की महत्वाकांक्षी सेंट्रल विस्टा परियोजना लगातार विवादों में घिरती नजर आ रही है. दिल्ली में इस परियोजना पर काम चल रहा है, लेकिन इसे रोकने की मांग कोरोना काल के दौरान बढ़ रही है. सुप्रीम कोर्ट में पिछले शुक्रवार को इस मामले की सुनवाई हुई. याचिकाकर्ता ने कहा है कि समय की गंभीरता को समझते हुए इस परियोजना को फिलहाल रोक दिया जाना चाहिए. राजपथ पर लगभग 2.5 किमी लंबे मार्ग को मध्य विस्टा कहा जाता है. इंडिया गेट से राष्ट्रपति भवन तक सेंट्रल विस्टा रूट पर लगभग 44 इमारतें हैं. जिसमें पार्लियामेंट हाउस, नॉर्थ ब्लॉक, साउथ ब्लॉक आदि शामिल हैं.

पूरे क्षेत्र, जिसे फिर से नियोजित किया गया है, का नाम सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट रखा गया है, जिसकी लागत लगभग रु। 30,000 करोड़ विस्टा परियोजना में पुराने परिपत्र संसद भवन के सामने लगभग 13 एकड़ भूमि पर एक नया तिकोना संसद भवन होगा. अभी इस जमीन पर पार्क, अस्थायी निर्माण और पार्किंग हैं. यह सब हटा दिया जाएगा. नए संसद भवन में लोक सभा और राजसभा के लिए एक-एक भवन होगा, लेकिन कोई केंद्रीय कक्ष नहीं होगा.

India Corona Update : 24 घंटों में मिले 3.29 लाख कोरोना केस, 3,876 लोगों की मौत, बिहार में कोविड मरीजों के दर्जनों शव गंगा में बहाए गए.

Pappu Yadav Arrested : पप्पू यादव गिरफ्तार, बीजेपी सांसद राजीव प्रताप रूडी के घर में खड़ी 50 से ज्यादा एंबुलेंस और उसमे बालू ढोए जाने का किया था खुलासा