Rahul Gandhi Target Modi Government Foreign Policy: पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने विदेश नीति को लेकर नरेंद्र मोदी सरकार पर निशाना साधा है. विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने मोदी सरकार की विदेश नीति पर सवाल उठाए जाने पर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी को जवाब दिया है. मोदी सरकार की विदेश नीति पर सवाल उठाते हुए राहुल गांधी ने कहा था, सवाल उठता है कि आखिरकार चीन ने यही वक्त क्यों चुना.

वहीं विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने सिलसिलेवार ट्वीट कर राहुल गांधी को जवाब दिया. विदेश मंत्री ने कहा, राहुल गांधी ने विदेश नीति पर सवाल उठाए हैं. उसके कुछ उत्तर यहां दिए जा रहे हैं. एस. जयशंकर ने कहा, हमारे प्रमुख साझेदार मजबूत हैं. अमेरिका, रूस, यूरोप और जापान से मिलने और औपचारिक बैठकों का दौर चलता रहता है. भारत राजनीतिक रूप से अधिक समान शर्तों पर चीन से रिश्ता रखता है. विश्लेषकों से पूछ लीजिए.

विदेश मंत्री ने कहा, और पाकिस्तान निश्चित रूप से बालाकोट और उरी के बीच अंतर को देख सकते हैं, और दूसरी ओर शर्म-अल-शेख, हवाना और 26/11 है. खुद से पूछिए. उन्होंने कहा कि अफगानिस्तान में कई परियोजनाएं पूरी हो चुकी हैं जिनमें सलमा डैम, संसद निर्माण शामिल है. ट्रेनिंग और कनेक्टविटी पर काम तेज है. अफगान की सड़कों से पूछिए.

एस जयशंकर ने कहा, भूटान को सुरक्षा और विकास के लिहाज से एक मजबूत साझेदार मिला है, और 2013 के उलट वो रसोई गैस की चिंता नहीं करते हैं. उनके घरों से पूछिए. विदेश मंत्री ने कहा कि बांग्लादेश के साथ बाउंड्री का मामला (2015) सुलझ गया. इससे विकास का रास्ता खुला है.

Rajasthan Political Crisis: हाई कोर्ट से हक में नहीं आता फैसला तो सचिन पायलट गुट के पास बचे हैं और कौन-कौन से विकल्प?

PM Narendra Modi on ECOSOC: पीएम मोदी ने फिर दोहराया- हमारा सिद्धांत सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास है

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर