श्रीनगर. जम्मू कश्मीर के श्रीनगर एयरपोर्ट पर पहुंचे राहुल गांधी समेत विपक्षी नेताओं का प्रतिनिधिमंडल नई दिल्ली वापस लौट आया है. कांग्रेस नेता राहुल गांधी सहित विपक्षी नेताओं का एक प्रतिनिधिमंडल जम्मू और कश्मीर के श्रीनगर एयरपोर्ट पहुंचा था. राहुल गांधी समेत विपक्षी नेताओं के इस प्रतिनिधिमंडल को एयरपोर्ट से बाहर नहीं निकलने दिया गया था. धारा 370 हटने के बाद जम्मू कश्मीर में राजनीतिक दलों के नेताओं की आवाजाही पर प्रतिबंध लगा हुआ है.जब से केंद्र ने राज्य का विशेष दर्जा वापस ले लिया और इसे दो केंद्र शासित प्रदेशों में विभाजित कर दिया. सरकार ने अब तक किसी भी राजनीतिक नेता को राज्य में प्रवेश करने की अनुमति नहीं दी है क्योंकि केंद्र द्वारा अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को निरस्त कर दिया गया था. सूत्रों के अनुसार, विपक्षी प्रतिनिधिमंडल का हिस्सा बनने वाली कुछ पार्टियों में कांग्रेस, भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी), भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (सीपीआई), राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी), राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी), तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) और द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (डीएमके) शामिल हैं.

राहुल गांधी, जिन्होंने पहले कई बार घाटी का दौरा करने की इच्छा व्यक्त की थी और राज्यपाल सत्य पाल मलिक से उन्हें अनुमति देने के लिए कहा था, प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व कर रहे हैं. सूत्रों ने कहा कि गांधी के साथ जाने वाले शीर्ष कांग्रेस नेताओं में गुलाम नबी आजाद और आनंद शर्मा शामिल हैं. आजाद ने पहले राज्य का दौरा करने के दो प्रयास किए थे लेकिन श्रीनगर और जम्मू में दो बार रोका गया था. उन्हें पहले श्रीनगर हवाई अड्डे पर रोका गया और वापस भेज दिया गया. माकपा के सीताराम येचुरी, भाकपा के डी राजा, द्रमुक के तिरुचि शिवा, राजद के मनोज झा और राकांपा के दिनेश त्रिवेदी भी प्रतिनिधिमंडल का हिस्सा होंगे. कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं ने दौरे के बारे में शुक्रवार शाम को चर्चा की. जम्मू-कश्मीर सरकार ने शुक्रवार रात एक बयान जारी कर नेताओं से घाटी का दौरा नहीं करने को कहा क्योंकि यह शांति और सामान्य जीवन की क्रमिक बहाली को खराब करेगा.

यहां पढ़ें Rahul Gandhi Opposition Jammu Kashmir Visit LIVE Updates:

Highlights

विपक्षी नेताओं ने लिखा बडगाम जिला प्रशासन को पत्र

श्रीनगर से वापस भेजे गए विपक्षी नेताओं ने बडगाम जिला प्रशासन को पत्र लिखकर आपत्ति जताई है.

राहुल गांधी बोले - हमारे साथ के लोगों को पीटा गया, साफ है कि जम्मू-कश्मीर के हालात सामान्य नहीं

राहुल गांधी ने कहा कि कुछ दिन पहले राज्यपाल ने मुझे जम्मू-कश्मीर आने का न्योता दिया था. मैंने उसे स्वीकार किया. हम जानना चाहते हैं कि वहां के लोगों पर क्या गुजर रही है लेकिन हमें एयरपोर्ट से आगे जाने ही नहीं दिया गया. हमारे साथ के लोगों और मीडिया के साथ बदसलूकी की गई, उन्हें पीटा गया. यह साफ हो गया है कि जम्मू-कश्मीर के हालात अभी सामान्य नहीं हैं.

राहुल गांधी बोले- जम्मू कश्मीर की स्थिति सामान्य नहीं, राज्यपाल के बुलाने पर गया था

जम्मू कश्मीर के श्रीनगर एयरपोर्ट से बैरंग लौटाए गए कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि कुछ दिनों पहले मुझे गवर्नर की तरफ से जम्मू कश्मीर आने का न्योता मिला था. मैंने उनका न्योता स्वीकार किया. हम वहां जाकर देखना चाहते थे कि वहां के लोग किस हाल से गुजर रहे हैं, लेकिन हमें एयरपोर्ट से बाहर निकलने की इजाजत नहीं दी गई. यहां तक की मीडियाकर्मियों से भी बदसलूकी की गई. यह सभी बातें दर्शाती हैं कि जम्मू कश्मीर के हालात सामान्य नहीं है.

गुलाम नबी आजाद बोले- जम्मू कश्मीर की स्थिति भयावह

श्रीनगर एयरपोर्ट से दिल्ली वापस लौटे कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा हमें शहर में जाने की इजाजत नहीं मिली, लेकिन जम्मू कश्मीर की स्थिति भयावह है. हमने फ्लाइट में मौजूद कश्मीर के यात्रियों से जो बातें सुनी वो पत्थर को भी पिघलाने के लिए काफी हैं.

श्रीनगर एयरपोर्ट से नई दिल्ली पहुंचा राहुल गांधी के साथ विपक्षी नेताओं का प्रतिनिधिमंडल

राहुल गांधी के साथ विपक्षी नेताओं का जो प्रतिनिधिमंडल जो जम्मू कश्मीर गया था, वापस दिल्ली एयरपोर्ट पहुंच गया है. राहुल गांधी समेत तमाम विपक्षी नेता जब श्रीनगर एयरपोर्ट पहुंचे तो इन्हें एयरपोर्ट से बाहर नहीं जाने दिया गया और वापस दिल्ली भेज दिया गया.

गवर्नर सत्यपाल मलिक का राहुल गांधी पर निशाना, बोले- विपक्षी दलों के नेताओं का राजनीति करना ठीक नहीं

जम्मू कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी के जम्मू कश्मीर दौर पर निशाना साधते हुए कहा कि विपक्षी दलों के नेताओं का यहां आना और राजनीति करना ठीक नहीं है. राहुल गांधी को कश्मीर मुद्दे पर संसद में बोलना चाहिए था.

कांग्रेस ने मीडिया के साथ हुई बदसलूकी के लिए पुलिस की निंदा की

कांग्रेस ने बयान जारी कर कहा कि श्रीनगर पुलिस द्वारा मीडियाकर्मियों से आक्रामक रूप से पेश आने और उनको विपक्षी नेताओं के प्रतिनिधिमंडल से मिलने से रोकने की खबरें आ रही हैं. हम मीडिया के खिलाफ अपनाए गए इस कठोर रवैय्ये की निंदा करते हैं.

कांग्रेस ने मोदी सरकार पर बोला हमला

राहुल गांधी की आगुवाई में श्रीनगर एयरपोर्ट पहुंचे विपक्षी नेताओं के प्रतिनिधिमंडल को दिल्ली वापस भेज जाने पर कांग्रेस ने मोदी सरकार पर हमला बोला है. कांग्रेस की ओर कहा गया है कि यदि सरकार के दावे के अनुसार जम्मू कश्मीर की स्थिति सामान्य है तो श्री राहुल गांधी के नेतृत्व में विपक्षी नेताओं के प्रतिनिधिमंडल को श्रीनगर हवाई अड्डे से वापस क्यों भेजा गया है? मोदी सरकार क्या छिपाने की कोशिश कर रही है.

श्रीनगर एयरपोर्ट पहुंचे राहुल गांधी समेत विपक्षी नेताओं को वापस भेजा गया

जम्मू कश्मीर के श्रीनगर एयरपोर्ट पहुंचे राहुल गांधी समेत विपक्षी नेताओं के प्रतिनिधिमंडल को वापस भेज दिया गया है. राहुल गांधी की आगुवाई में श्रीनगर एयरपोर्ट पहुंचे विपक्षी नेताओं के इस प्रतिनिधिमंडल में गुलाम नबी आजाद, डी राजा, शरद यादव, मनोज झा, मजीद मेमन जैसे कई बड़े नेता शामिल थे.

श्रीनगर एयरपोर्ट पर मीडिया से हुई बदसलूकी

राहुल गांधी समेत विपक्षी नेताओं का डेलीगेशन जैसी ही श्रीनगर एयरपोर्ट पहुंचा, मीडिया और नेताओं को अलग कर दिया गया. मीडिया ने विपक्षी नेताओं से बातचीत करनी चाही तो पुलिस ने उनके साथ बदसलूकी है. प्रशासन ने राहुल गांधी और विपक्षी नेताओं को श्रीनगर आने से मना किया था.

राहुल गांधी के साथ श्रीनगर एयरपोर्ट पहुंचा विपक्ष का डेलीगेशन

राहुल गांधी आठ राजनीतिक दलों के 11 नेताओं के साथ श्रीनगर पहुंच चुके हैं.सूत्रों के मुताबिक राहुल गांधी के साथ श्रीनगर पहुंचे विपक्ष के डेलीगेशन को एयरपोर्ट से बाहर निकलने नहीं दिया जा रहा है.

हवाई अड्डा छोड़ने की अनुमति नहीं मिलेगी: सूत्र

जम्मू और कश्मीर के प्रशासन ने विपक्षी नेताओं को श्रीनगर आने के लिए मना किया था. सूत्रों ने कहा है कि राहुल गांधी के नेतृत्व में विपक्षी प्रतिनिधिमंडल को श्रीनगर हवाई अड्डे से बाहर जाने की अनुमति नहीं दी जाएगी. उनके पास शहर में दौरा करने की अनुमति नहीं है. ऐसा करके वे धारा 144 का उल्लंघन करेंगे.

शुक्रवार रहा शांतिपूर्ण, संवेदनशील क्षेत्रों में प्रतिबंध जारी

जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने कहा कि शुक्रवार की नमाज के बाद कश्मीर घाटी में कड़े प्रतिबंध हटा दिए गए हैं और नए बने केंद्र शासित प्रदेश में किसी भी तरह की परेशानी से बचने के लिए सुरक्षा बल अभी भी तैनात है. प्रतिबंध के एक भाग के रूप में, बड़ी मस्जिदों के बंद रहने की संभावना है, जबकि उपनिवेशों में स्थानीय मस्जिदें नमाज अदा करने के लिए खुली रहेंगी.

विपक्षी दल के प्रतिनिधिमंडल ने श्रीनगर के लिए भरी उड़ान

विपक्षी नेता डी राजा, शरद यादव, मजीद मेमन और मनोज झा ने राहुल गांधी समेत विपक्षी दल के साथ श्रीनगर के लिए उड़ान भर ली है. राहुल गांधी सहित विपक्ष प्रतिनिधिमंडल आज जम्मू-कश्मीर के दौरे पर है. प्रतिनिधिमंडल में कांग्रेस, सीपीआई-एम, सीपीआई, आरजेडी, एनसीपी, टीएमसी और डीएमके हैं.

राकांपा नेता मजीद मेमन ने कहा सरकार के समर्थन में है ये दौरा

राकांपा नेता मजीद मेमन, जो विपक्षी प्रतिनिधिमंडल का हिस्सा हैं, आज जम्मू-कश्मीर का दौरा करेंगे. उन्होंने कहा कि, हमारा मकसद कहीं जाने और गड़बड़ी पैदा करना नहीं है, हम सरकार के विरोध में नहीं जा रहे हैं, हम सरकार के समर्थन में जा रहे हैं, ताकि हम भी सुझाव दे सकें कि आगे क्या करना होगा.

गुलाम नबी आजाद ने खड़े किए सरकार पर सवाल

गुलाम नबी आजाद जो विपक्षी प्रतिनिधिमंडल का हिस्सा हैं आज जम्मू-कश्मीर का दौरा करेंगे. उन्होंने अपने दौरे को लेकर प्रशासन के मना करने पर कहा, एक तरफ सरकार का कहना है कि स्थिति सामान्य है, और दूसरी तरफ वे किसी को भी जाने की अनुमति नहीं देते हैं. अगर चीजें सामान्य हैं तो राजनीतिक नेताओं को नजरबंद क्यों किया गया है?

जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने कहा- श्रीनगर एयरपोर्ट से बाहर नहीं निकलने दिया जाएगा

जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने कहा कि राहुल गांधी और विपक्षी नेताओं के दल के श्रीनगर आने पर उन्हें एयरपोर्ट से बाहर ही नहीं निकलने दिया जाएगा. उन्हें प्रशासन ने जम्मू-कश्मीर आने से मना किया है. उन्हें चेतावनी दी गई है कि ऐसा करने से सामान्य जीवन में लौटने और शांती बनाए रखने की कोशिश में लगे लोगों और प्रशासन को परेशानी का सामना करना पड़ेगा जिससे माहौल फिर बिगड़ सकता है.

जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने किया आने से मना

जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने राहुल गांधी और विपक्षी नेताओं के दल को श्रीनगर आने से मना किया है. उन्होंने कहा है कि विपक्षी नेताओं के आने से माहौल बिगड़ सकता है. अभी इलाके में आम जनजीवन अपने रुटीन पर वापस लौटने की कोशिश कर रहा है. विपक्षी नेताओं के वहां जाने से माहौल फिर खराब हो सकता है.

दोपहर 12 बजे जम्मू-कश्मीर पहुंचेंगे राहुल गांधी और विपक्षी नेता

दिल्ली में कांग्रेस नेता राहुल गांधी अपने आवास से श्रीनगर जाने के लिए रवाना हो गए हैं. राहुल गांधी सहित विपक्षी नेताओं का एक प्रतिनिधिमंडल आज जम्मू-कश्मीर का दौरा करेगा. जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के बाद विपक्ष का ये पहला दौरा है.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App