नई दिल्ली: फ्रांस से आयातित लड़ाकू विमान राफेल आज भारत पहुंच रहे हैं. पांच राफेल विमान दोपहर तक अंबाला एयरबेस बेस कैंप तक आएंगे. राफेल की लैंडिंग से पहले पूरे इलाके में पुलिस ने सुरक्षा मुस्तैद कर दी है. धुलकोत, बल्देव नगर, गरनाला और पंजखोरा सहित सैन्य अड्डे से लगे गांवों में धारा 144 लागू कर चार या उससे अधिक लोगों के जमा होने पर रोक लगा दी गई है. राफेल की अंबाला में लैंडिंग के मद्देनजर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं फोटोग्राफी से लेकर घर की छतों पर लोगों की मौजूदगी को बैन कर दिया गया है ताकि कोई राफेल का लैंडिंग वीडियो या फोटो ना ले सके. सुरक्षा की दृष्टि से ये काफी महत्वपू्र्ण है. पांच राफेल लड़ाकू विमानों को रिसीव करने के लिए खुद वायुसेना प्रमुख आर.के.एस. भदौरिया अंबाला बेस कैंप पर मौजूद हैं. अंबाला एयरबेस पर राफेल को वाटर सैल्यूट किया जाएगा

राफेल विमान ने सोमवार को फ्रांसीसी बंदरगाह शहर बोरदु के मेरिग्नैक एयरबेस से उड़ान भरी थी. ये विमान लगभग 7,000 किलोमीटर की दूरी तय करने के बाद बुधवार दोपहर अंबाला पहुंचेंगे. सोमवार से लेकर बुधवार के बीच राफेल विमान संयुक्त अरब अमीरात में रुका, जो आज सुबह ग्यारह बजे के करीब वहां से टेक ऑफ हुआ है. राफेल ने करीब 11 बजे संयुक्त अरब अमीरात के अल दफरा से टेक ऑफ किया है. जानकारी के मुताबिक अंबाला और उसके आसपास में मौसम अनुकूल नहीं रहता है तो फिर इन राफेल जेट्स की लैंडिंग जोधपुर एयरबेस पर होगी. अंबाला और एयरबेस रणनीतिक और सामरिक रूप से महत्वपूर्ण है.

वायुसेना के अधिकारियों के मुताबिक पांच राफेल विमानों के बेड़े में एक सीट वाले तीन और दो सीट वाले दो विमान होंगे. गौरतलब है कि भारत ने 23 सितंबर 2016 को फ्रांसीसी एरोस्पेस कंपनी दसॉल्ट एविएशन से 36 राफेल लड़ाकू विमान खरीदने के लिए 59,000 करोड़ रुपये का सौदा किया था. हालांकि इसपर बवाल भी हुआ लेकिन आखिरकार राफेल सौदा पूरा हुआ और अब पांच राफेल विमान भारतीय वायुसेना के बेड़े में शामिल होने जा रहे हैं. इन विमानों को बुधवार दोपहर भारतीय वायुसेना में स्क्वाड्रन नम्बर 17 में शामिल किया जाएगा, जिसे ‘गोल्डन एरोज’ के नाम से भी जाना जाता है.

Rajnath Singh On LAC: LAC पर चीनी खतरे को लेकर राजनाथ सिंह ने किया आगाह, कहा- वायुसेना रहे तैयार

BJP Congress on Rafale Review Verdict: राफेल समीक्षा फैसले को लेकर बीजेपी-कांग्रेस के बीच नए सिरे से छिड़ी जंग!