मोहाली: पंजाब के मोहाली में सोमवार रात पंजाब पुलिस के खुफिया विभाग की बिल्डिंग के बाहर जोरदार धमाका हुआ। एसपी रविंद्र पाल सिंह ने बयान जारी कर कहा कि हमला रॉकेट लॉन्चर से किया गया था जिसमें खुफिया विभाग के मुख्यालय की चौथी मंजिल को निशाना बनाया गया। पूरे जिले को छावनी में तब्दील किया गया है। साथ ही कहा कि कोई नुकसान नहीं हुआ है। यह सवाल पूछे जाने पर कि क्या इसे आतंकवादी हमला माना जा सकता है? मोहाली के एसपी ने कहा कि इसे नजरअंदाज नहीं किया जा सकता हम इसकी जांच कर रहे हैं और जो भी इसका दोषी होगा उसके खिलाफ शख्त कार्रवाई की जाएगी। फिलहाल घटना में किसी के घायल होने की कोई खबर नहीं है। वही धमाका होने के बाद मोहाली में सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है। मीडिया रिपोर्ट में कहा जा रहा है कि आसपास की बिल्डिंग भी प्रभावित हुई हैं।

खुफिया विभाग की यह बिल्डिंग सुहाना साहब गुरुद्वारा के पास स्थित है। खुफिया विंग के अधिकारियों का कहना है कि धमाका रॉकेट ग्रेनेड हमले के कारण हुआ। यह हमला रात्रि करीब 7:45 बजे हुआ जिसमें बिल्डिंग को निशाना बनाया गया। इस हमले का प्रभाव बिल्डिंग की तीसरी मंजिल तक महसूस किया गया। धमाके के बाद बिल्डिंग के आसपास बड़ी संख्या में पुलिस बल को तैनात किया गया है। पुलिस की पूरी इलाके में तैनाती की गई है। पंजाब सरकार के सूत्रों के मुताबिक यह धमाका कोई आतंकी हमला नहीं है। बल्कि पंजाब पुलिस के खुफिया विभाग के पास अपने खुद के विस्फोटक हैं जिनकी वजह से धमाका हुआ है। पुलिस अभी घटनास्थल के आसपास लगे सीसीटीवी फुटेज की जांच कर रही है।

पुलिस के संपर्क में है सीएम मान

जानकारी के मुताबिक पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने इस मामले में डीजीपी से फ़ोन पर बात की है और घटना की सम्पूर्ण जानकारी प्राप्त की है। सरकारी अधिकारियों ने भी आतंकी हमले की संभावना से इनकार कर दिया है। उनका कहना है कि बिल्डिंग के अंदर विस्फोटक रखे हुए थे। धमाके से कोई नुकसान नहीं हुआ है। पुलिस विभाग के वरिष्ठ अधिकारी मौके पर मौजूद है और हादसे की जांच की जा रही है ।इसके साथ ही फॉरेंसिक टीम को भी बुलाया गया है।

य़ह भी पढ़े:

एलपीजी: आम लोगों का फिर बिगड़ा बजट, घरेलू रसोई गैस सिलेंडर 50 रूपये हुआ महंगा

SHARE

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर