नई दिल्लीः जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमलों में भारत ने अपने 40 सपूत खो दिए. इन 40 सपूतों ने देश के लिए अपनी जान की कुर्बानी दे दी. इन 40 जाबांजों की मौत के बाद पूरे देश में आक्रोश है और देशवासी नरेंद्र मोदी सरकार से इस हमले के दोषी आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद सरगना मसूद अजहर और इसके जैसे कई और संगठनों का समर्थन करने वाले पाकिस्तान के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग कर रहे हैं. इन सबके बीच गुरुवार को पुलवामा में फिदायीन हमले में शहीद हुए सीआरपीएफ जांबाजों का पार्थिव शरीर उनके घर पहुंचा.
यूपी, पंजाब, बिहार, राजस्थान, मध्य प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, कर्नाटक, पश्चिम बंगाल, महाराष्ट्र, जम्मू-कश्मीर, ओडिशा समेत अन्य राज्यों में स्थित सीआरपीएफ के 40 जवानों का पार्थिव शरीर जब उनके इलाके में पहुंचा तो जैसे आसपास के इलाकों में आंसुओं का सैलाब उमड़ पड़ा. देश के लिए जान गंवाने वाले इन लालों को देखने के लिए दूर-दूर के लोग आए और फिर इन जवानों की अंतिम यात्रा में सीएम, बड़े अधिकारी समेत हजारों लोग शामिल हुए. इस दौरान तिरंगे से लिपटे शहीदों और उन्हें श्रद्धांजलि देते लोगों की आंसुओं को देखना किसी सदमे से कम नहीं था. करोड़ों लोगों के हाथ दुआओं में उठ रहे थे कि भगवान इन जाबांजों को जन्नत नसीब करना.
देशभर से आ रही इन तस्वीरों की एक झलक जरूर देखें-

Governor Satya Pal Malik on Pulwama Attack: पुलवामा आतंकी हमले के बाद राज्यपाल सत्य पाल मलिक ने जम्मू-कश्मीर में हिंसा और अफवाह फैलाने वालों के खिलाफ पुलिस को दिए सख्त कार्रवाई के निर्देश

Vayu Shakti 2019: भारतीय वायु सेना का सबसे बड़ा युद्धाभ्यास वायु शक्ति शुरू, दुश्मन देशों में खौफ, पहले दिन दिखे सचिन तेंदुलकर