नई दिल्ली: भारत-चीन बार्डर पर जारी तनाव के बीच सरकार ने चीन को एक और जबर्रदस्त आर्थिक झटका दिया है. केंद्र सरकार ने बुधवार PUBG समेत 118 मोबाइल ऐप्स को बैन कर दिया है. इससे पहले भी सरकार 59 चीनी कंपनियों की ऐप को बन कर चुकी है. सूचना और प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने प्रतिबंधित की गईं ऐप्स को देश की सुरक्षा, संप्रभुता, एकता के लिए नुकसानदेह बताया है. सरकार ने चीन की आर्थिक घेराबंदी जून के अंत में ही शुरू कर दी थी जब भारत सरकार ने चीन के खिलाफ कार्रवाई करते हुए 59 चीनी मोबाइल एप्स को बैन किया था. इन ऐप्स में टिकटॉक, शेयर इट, यूसी ब्राउजर, हेलो, विगो, जैसे ऐप शामिल थे. इसके बाद अगले ही महीने में सरकार ने 47 और चीनी मोबाइल ऐप्स पर प्रतिबंध लगा दिया और अब 118 चीनी ऐप को बैन किया गया है.

गौरतलब है कि भारत और चीन के बीच लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा पर मई महीने की शुरुआत से ही तनाव की स्थिति बरकरार है. इस तनाव में बढ़ोतरी तब हुई थी, जब जून के मध्य में दोनों देशों के सैनिकों के बीच गलवान घाटी में हिंसक झड़प हुई जिसमें भारत के 20 जवान शहीद हो गए थे इस दौरान की चीनी सैनिक भी मारे गए पिछले महीने फिर से चीनी सैनिकों ने उकसावेपूर्ण कार्रवाई की जो अबतक जारी है.

दो दिन पहले भी चीन ने भारतीय सीमा में आकर चौकी बनाने की कोशिश की थी लेकिन पहले से सतर्क भारतीय जवानों ने उनके टैंट-तंबू और कैमरों को उखाड़कर फेंक दिया जिसकी चीन में निंदा की गई. चीन को समझना होगा कि ये पहले वाला भारत नहीं है, सरकार हर मोर्चे पर चीन को जवाब देने के लिए पूरी तरह तैयार है.

India-China LAC Clash: चीन ने फिर की भारतीय सीमा में घुसने की कोशिश, मुस्तैद भारतीय सेना ने खदेड़कर पीछे धकेला

China India Standoff: बार्डर से पीछे हटने को तैयार नहीं चीन, फिर दिखाई भारत को आंख, सेना पूरी तरह तैयार

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर