नई दिल्ली: चीन बार्डर पर हुई हिंसा के बाद से बीजेपी और कांग्रेस के बीच चल रही तनातनी और तेज हो गई है क्योंकि केंद्रीय शहरी विकास मंत्रालय की ओर से कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा को दिल्ली के लोधी एस्टेट स्थित सरकारी बंगले को छोड़ने का नोटिस मिला है. प्रियंका को एक अगस्त तक इस बंगले को खाली करना होगा. कांग्रेस पार्टी इसे निजी हमला बता रही है.

दरअसल पिछले साल नवंबर में केंद्रीय गृह मंत्रालय ने देश में SPG सुरक्षा को लेकर रिव्यू किया था जिसमें गांधी परिवार में से सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी से SPG कवर वापस लेने का फैसला हुआ था. कांग्रेस पार्टी के इन तीन शीर्ष नेताओं के पास अब Z प्लस सुरक्षा है वो भी CRPF के साथ.

एसपीजी सुरक्षा की वजह से प्रियंका गांधी को लोधी एस्टेट में एक सरकारी बंगला अलॉट किया गया था जिसे अब शहरी विकास मंत्रालय खाली करने को कह रहा है. नोटिस में ये भी कहा गया है कि अगर एक अगस्त तक बंगला खाली नहीं किया जाता है तो अतिरिक्त किराया देना होगा. न्यूज एजेंसी पीटीआई के मुताबिक प्रियंका गांधी वाड्रा को 21 फरवरी, 1997 में लोधी रोड स्थित बंगला अलॉट किया गया था.

उनके पास तबसे लेकर पिछले साल तक SPG सुरक्षा कवर था जिसे बदलकर Z प्लस कर दिया गया और जेड प्लस सुरक्षा कवर में बंगला नहीं मिलता. न्यूज एजेंसी के मुताबिक प्रियंका गांधी इस बंगले के लिए 37 हजार रुपये प्रति महीने का किराया दे रही थीं. बंगला खाली करने के बाद खबर है कि प्रियंका गांधी वाड्रा लखनऊ में शिफ्ट हो सकती हैं, क्योंकि आगे 2022 के उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव हैं. ऐसे में कांग्रेस अभी से तैयारी में जुट रही है.

Sonia Gandhi Target Modi Government On Fuel Price Hike: सोनिया का मोदी सरकार पर निशाना, बोलीं- तेल के दाम बढ़ाकर जनता से जबरन वसूले 18 लाख करोड़

Amit Shah Target Rahul Gandhi: अमित शाह का राहुल गांधी पर वार, कहा- चीन और पाक को खुश करने वाला बयान देना ठीक नहीं

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर