नई दिल्ली: कांग्रेस प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी आज अपने ही पार्टी के कार्यकर्ताओं के गलत व्यवहार के चलते नाराज हो गईं. यही नहीं उन्होंने ट्विटर पर अपना रोष जाहिर करते हुए अपने साथ बदसलूकी करने वाले कार्यकर्ताओं को पार्टी में वापस लेने के फैसले की आलोचना भी की. प्रियंका चतुर्वेदी ने ट्विटर पर लिखा कि ‘यह देखना बहुत दुखद है कि कुछ खराब आचरण करने वाले लोगों को कांग्रेस में अपना खून-पसीना देने वाले कार्यकर्ताओं की जगह पर ज्यादा तरजीह दी जा रही है. मैंने पहले भी अपनी पार्टी के लिए लोगों की ओर से फेंके पत्थर और अपशब्दों की मार सही हैं, लेकिन पार्टी के अंदर मेरे साथ दुर्व्यवहार करनेवालों को, मुझे धमकाने वालों को बिना किसी कार्रवाई के ऐसे ही छोड़ा जा रहा है, यह देखना बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है.’

दरअसल राफेल मामले को लेकर प्रियंका चतुर्वेदी ने मथुरा में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस किया था जिसमें पार्टी के कुछ कार्यकर्ताओं ने हंगामा किया. प्रियंका चतुर्वेदी की शिकायत के बाद उन्हें पार्टी से निकाल दिया गया लेकिन बाद में पार्टी ने उन्हें दोबारा पार्टी में शामिल करने को लेकर एक लेटर जारी कर दिया जिसकी वजह से प्रियंका चतुर्वेदी नाराज हैं. यूपी कांग्रेस ने अपने पत्र में लिखा कि निलंबित सदस्यों ने अपने व्यवहार और आचरण के लिए माफी मांग ली है और उनके अनुरोध पर पार्टी में उन्हें फिर से शामिल किया जा रहा है.

प्रियंका के साथ अभद्र व्यवहार करने वाले निलंबित सदस्यों को पार्टी में वापस लेने को लेकर जब वरिष्ठ कांग्रेसी नेता कपिल सिब्बल से सवाल पूछा गया तो उन्होंने सवाल को टालते हुए कहा कि मैं देख लूंगा. फिलहाल देखने वाली बात होगी कि क्या ये मामला यहीं रूक जाता है या फिर बात आगे बढ़ती है. चुनावी मौसम में वैसे भी नेताओं का हर दिन दलबदल चल रहा है और प्रिंयंका चतुर्वेदी कांग्रेस की बड़ी नेता मानी जाती हैं. देखना दिलचस्प होगा कि पार्टी हाई कमान उन्हें कैसे मनाती है क्योंकि बात यहां प्रतिष्ठा से जुड़ गई है. 

Sadhvi Pragya Contest Against Digvijay Singh: मालेगांव धमाके की आरोपी साध्वी प्रज्ञा को बीजेपी ने भोपाल से दिग्विजय सिंह के खिलाफ दिया लोकसभा टिकट

Robert Vadra on Priyanka Gandhi Contesting Elections: प्रियंका गांधी के लोकसभा चुनाव में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ लड़ने पर बोले पति रॉबर्ट वाड्रा- बिल्कुल

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App