नई दिल्ली: चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर अब अपनी अलग पार्टी बनाने जा रहे है. उन्होंने इस बात की जानकरी ट्वीट के जरिए दी है. बीजेपी, कांग्रेस जेडीयू के लिए परदे की पीछे काम कर चुके पीके अब खुलकर अपनी पार्टी के लिए रणनीति बनाएंगे और बड़े-बड़े दिग्गज नेताओं के विचारों को सीधा टक्कर देंगे। इससे पहले खबर थी पीके कांग्रेस का दामन थाम सकते है. कई बार उनकी पार्टी के वरिष्ठ नेताओ और सोनिया गाँधी से मुलाकात भी हुई थी. लेकिन अंत में जब बात नहीं बनी तो उन्होंने अब खुद अपनी एक अलग पार्टी बनाने का एलान किया है और वे इसकी शुरुआत बिहार से करने जा रहे है।

प्रशांत किशोर ने अपने ट्वीट में कहा कि अब मुद्दों और ‘जन सुराज’ के मार्ग को बेहतर ढंग से परखने के लिए रियल मास्टर्स यानी जनता तक जाने का समय आ गया है. लम्बे समय से पीके की कांग्रेस में जाने की अटकले चल रही थी. प्रशांत किशोर ने पार्टी के शीर्ष नेताओ को 2024 के लोकसभा चुनाव के लिए एक पीपीटी प्रेजेंटेशन भी दिया था, जिसमें उन्होंने कांग्रेस में जो बदलाव होने चाहिए उसका जिक्र किया था. फिर चाहे वो पार्टी के सोचने का तरीका, विचारधारा, कार्यशैली, कार्यकर्ताओं के प्रति गंभीरता या पार्टी नेतृत्त्व को बदलने की बात ही क्यों न हो।

आज बिहार दौरे पर पीके

ऐसी ख़बरें है कि प्रशांत किशोर पूरे बिहार की यात्रा करेंगे और लोगों के बीच बैठकर उनकी मुश्किलों को समझेंगे। जिस तरह प्रशांत किशोर लम्बे समय से राजनीति को परदे के पीछे से देख रहे है, उसकी हर परिस्थिति से वाकिफ है. ऐसे में माना जा रहा है कि उनके पास विक्लप सीमित नहीं है, वे कभी भी नई पार्टी का ऐलान कर सकते है और खुले तौर पर अन्य दलों को चेतावनी दे सकते है.

4 मई को प्रेस कांफ्रेंस करेंगे पीके

जानकारी के मुताबिक प्रशांत किशोर 4 मई को प्रेस कांफ्रेंस करेंगे और जनता के सामने अपनी बात रखेंगे। इसके साथ ही वे इस दिन अपने नए अभियान के बारे में भी लोगों को बता सकते हैं और पार्टी का भी ऐलान कर सकते है.

यह भी पढ़े:

गुरुग्राम के मानेसर में भीषण आग, मौके पर दमकल की 35 गाड़ियां

SHARE

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर