Wednesday, February 1, 2023
spot_img

लखीमपुर खीरी: किसानों ने की आत्मदाह की कोशिश, पुलिस ने लाठीचार्ज कर धरना शांत कराया

लखीमपुर खीरी। लखीमपुर खीरी लम्बे समय से विवादों की सूची में चल रहा है। इस दौरान भी ग्राम पंचायत में हुए विकास कार्यों की जांच को लेकर किसान धरना कर रहे थे। 2 अक्टूबर से चल रहे इस धरने को यूपी पुलिस ने लाठी चार्ज समाप्त कर दिया है. इस दौरान एक किसान नेता ने आत्मदाह करने की कोशिश भी की, जिसके बाद प्रशासन ने उसे एंबुलेंस के जरिए अस्पताल भेज दिया है.

किसान नेता ने की आत्मदाह की कोशिश

68 दिनों से धरने पर बैठे किसान नेता श्यामू शुक्ल ने बाईपास मार्ग पर खड़ंजा निर्माण पर जांच की कार्रावाई करने की मांग की थी जिसको लेकर वह महिलाओं और किसानों के साथ धरने पर बैठे थे। जिम्मेदारों पर कार्रवाई की मांग को लेकर शुक्रवार को उन्होने आत्मदाह का ऐलान कर दिया। दोपहर को सैकड़ों किसानों ने हाईवे पर जुलूस भी निकाला। पुलिस के रोकने पर किसान हाईवे पर ही बैठ गए।
पुलिस के आधिकारियों से वार्ता के दौरान असंतुष्ट होकर किसान नेता श्यामू शुक्ला वार्ता स्थल से हटकर भीड़ के बीच पहुंच गए। वहाँ उन्होने अपने शरीर पर पेट्रोल डालकर आग लगाने का प्रयास किया, इस प्रयास के चलते मुस्तैद पुलिस कर्मियों ने उसी समय इस किसाने नेता को दबोच लिया।

किसानों ने एंबुलेंस रोकने का प्रयास किया

श्यामू शुक्ला के इस आत्मदाह के प्रयास पर पुलिस ने उस के ऊपर कंबल डाला और घसीटकर एंबुलेंस में डाल दिया। यह दृश्य देखकर बाकी किसान भी भड़क गए और आत्मदाह का ऐलान करने लगे, पुलिन ने छह लोगों को हिरासत मे ले लिया है। इसके बाद पुलिस ने लाठीचार्ज करके भीड़ को हटाने का प्रयास किया। गांव वालों का कहना है कि, पुलिस के द्वारा कुछ स्प्रे भी किया जा रहा था।
श्यामू शुक्ला को ले जा रही एंबुलेंस को रोकने का प्रयास भी किसानों के द्वारा किया गया। जबकि दो किसानों ने फांसी लगाने की भी कोशिश की, लेकिन वह सफल नहीं हो सके।

Latest news