चेन्नई. चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बीच शुक्रवार को चेन्नई में होने वाली बैठक दोनों नेताओं के बीच दूसरी अनौपचारिक शिखर बैठक होगी. चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग 11 अक्टूबर को दोपहर बाद चेन्नई पहुंचेंगे. पीएम मोदी और चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग तमिलनाडु के महाबलीपुरम में यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थलों में से कुछ का दौरा करेंगे, जो चेन्नई से 50 किमी दूर है. दोनों कलाक्षेत्र द्वारा प्रस्तुत सांस्कृतिक कार्यक्रम में भी शामिल होंगे. पीएम मोदी राष्ट्रपति शी को महाबलिपुरम के कुछ प्रमुख ऐतिहासिक स्थलों को दिखाएंगे, जो 7 वीं और 8 वीं शताब्दी में पल्लव वंश द्वारा निर्मित अपने मंदिरों और स्मारकों के लिए प्रसिद्ध है.

खबरों के मुताबिक, प्रधानमंत्री चीनी राष्ट्रपति के लिए रात्रिभोज की मेजबानी करेंगे और दोनों कार्यक्रम स्थल पर कलाक्षेत्र के एक संस्कृति कार्यक्रम में भी शामिल होंगे. पीएम मोदी और राष्ट्रपति शी 12 अक्टूबर को मछुआरे के कोव में अपने प्रतिनिधिमंडल के बीच दूसरे दौर की चर्चा करेंगे जिसके बाद चीनी नेता वापस उड़ान भरेंगे. चीनी राष्ट्रपति और पीएम मोदी अपनी मुलाकात के दौरान किसी भी दस्तावेज पर हस्ताक्षर नहीं करेंगे क्योंकि दोनों नेताओं के बीच बातचीत अनौपचारिक है. पीएम मोदी के अलावा, वार्ता में विदेश मंत्री एस जयशंकर और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल शामिल होंगे, जबकि राष्ट्रपति शी के साथ चीनी विदेश मंत्री वांग यी भी होंगे.

दूसरे अनौपचारिक शिखर सम्मेलन के लिए महाबलीपुरम के विश्व धरोहर स्थल को चुनने के पीछे का कारण पीएम मोदी और राष्ट्रपति शी की इतिहास और संस्कृति में साझा रुचि थी. महाबलिपुरम को मामल्लापुरम भी कहा जाता है. इलाके को दोनों नेताओं के दौरे के लिए तैयार कर दिया गया है. खास बात ये है कि इस शहर और चीन का रिश्ता बेहद पुराना है. ये रिश्ता 1300 साल पुराना है. महाबलीपुरम, या मामल्लपुरम, तमिलनाडु तट पर चेन्नई से 56 किमी दक्षिण में है. पल्लव वंश के समुद्री रास्ते से बौद्ध धर्म और चीन के साथ प्राचीन संबंध थे.

Also read, ये भी पढ़ें: PM Narendra Modi Xi Jinping Mahabalipuram Visit: 11 अक्टूबर को महाबलीपुरम में होगी पीएम नरेंद्र मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी जिंनपिंग की मुलाकात, तमिलनाडु के इस शहर का चीन से है पुराना रिश्ता

US Bans Chinese Officials Travel: अमेरिका ने मुस्लिमों से दुर्व्यवहार करने में शामिल चीनी अधिकारियों के यूएस आने पर लगाया बैन

Amit Shah on Manmohan Singh Foreign Tours: गृह मंत्री अमित शाह का बयान- पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने पीएम नरेंद्र मोदी से ज्यादा विदेश यात्राएं कीं

Narendra Modi Govt Indian Economy: भारतीय बाजार की ताकत और नरेंद्र मोदी सरकार की राष्ट्रवादी मोदीनॉमिक्स

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App