नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के बीच फोन पर करीब 30 मिनट तक बातचीत हुई. दोनों देशों के राष्ट्राध्यक्षों के बीच द्विपक्षीय और क्षेत्रीय संबंधों को लेकर चर्चा हुई. इस दौरान पीएम नरेंद्र मोदी ने पाकिस्तान का नाम लिए बगैर कहा कि क्षेत्र में कुछ नेता अपनी बयानबाजी से अशांति का वातावरण पैदा कर रहे हैं. जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के बाद भारत-पाकिस्तान के बीच जारी तनाव के बीच मोदी और ट्रंप की यह पहली बातचीत है. दूसरी तरफ पीएम मोदी अगले महीने अमेरिका के दौरे पर जाने वाले हैं ऐसे में इस बातचीत को अहम माना जा रहा है.

पीएम नरेंद्र मोदी और डोनाल्ड ट्रंप के बीच हुई इस बातचीत में द्विपक्षीय और क्षेत्रीय मामलों पर चर्चा हुई. दोनों ने गर्मजोशी और सौहार्दता से इन मसलों पर बात की. पीएम मोदी ने जून महीने में जापान के ओसाका में हुए जी -20 शिखर सम्मेलन के दौरान हुई दोनों की मुलाकात को याद किया. ओसाका में अपनी द्विपक्षीय चर्चा का उल्लेख करते हुए पीएम मोदी ने उम्मीद जताई कि भारत के वाणिज्य मंत्री और अमेरिकी व्यापार प्रतिनिधि जल्द ही द्विपक्षीय व्यापार संभावनाओं पर चर्चा करने के लिए मिलेंगे.

वहीं पाकिस्तान का नाम लिए बिना प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से कहा कि क्षेत्र के कुछ नेता उकसाने वाले बयान दे रहे हैं. इनकी बयानबाजी शांति के विरुद्ध है. पीएम मोदी ने आतंक और हिंसा से मुक्त वातावरण बनाने और सीमा पार आतंकवाद से बचने के महत्व के बारे में ट्रंप से चर्चा की. वहीं पीएम मोदी ने साफ किया कि जो भी गरीबी, अशिक्षा और बीमारी से लड़ने के मार्ग पर चलेगा, भारत हमेशा उसके साथ रहेगा.

साथ ही अफगानिस्तान की आजादी के सौ साल पूरे होने के अवसर को याद करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने डोनाल्ड ट्रंप को कहा कि भारत अफगानिस्तान में एकजुट, सुरक्षित, लोकतांत्रिक व्यवस्था कायम रखने के लिए प्रतिबद्ध है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के साथ नियमित संपर्क में रहने की सराहना की.

IMA Slams British Journal Commenting on Jammu Kashmir: ब्रिटिश जर्नल ने नरेंद्र मोदी सरकार के जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के फैसले की निंदा की तो इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने दिया मुंहतोड़ जवाब

Shehla Rashid Tweets on Jammu Kashmir Controversy: जम्मू कश्मीर की हालात पर ट्वीट करने वाली जेएनयू की पूर्व छात्र नेता शेहला राशिद सोशल मीडिया पर ट्रोल, लोग बोले- गिरफ्तार हो ISI एजेंट

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App