नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मन की बात कार्यक्रम के जरिए देश को संबोधित किया और कोरोना वायरस से लड़ने के लिए लॉकडाउन के पालन और सोशल डिस्टेंसिंग का महत्व समझाया. साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पवित्र रमजान माह को लेकर भी बात की. उन्होंने कहा कि रमजान का भी पवित्र महीना शुरू हो चुका है. अब जब पूरे विश्व में ये मुसीबत आ ही गई है तो हमारे सामने अवसर है, इस रमजान को संयम, सद्भाव, संवेदनशीलता और सेवा-भाव का प्रतीक बनाएं. पीएम मोदी ने कहा कि रमजान के दौरान इतनी इबादत करें कि ईद से पहले ही कोरोना देश से चला जाए और त्योहार को उत्साह और खुशी के साथ मना पाएं,

पीएम नरेंद्र मोदी ने आगे कहा कि उन्हें विश्वास है कि इन दिनों में स्थानीय प्रशासन के दिशा-निदेर्शों का पालन करते हुए कोरोना के खिलाफ चल रही इस लड़ाई को हम मजबूत करेंगे. सड़कों, बाजारों, मोहल्लों में physical distancing के नियमों का पालन अभी बहुत आवश्यक है, वे आग्रह करते हैं कि लोग कतई अति आत्मविश्वास में न फंस जाएं. ऐसा विचार न पाल लें कि जिनके शहर, गांव, गली, दफ्तर में अभी तक कोरोना पहुंचा नहीं है, इसलिए अब पहुंचने वाला नहीं है. पीएम मोदी ने कहा कि ऐसी गलती कभी मत पालना, दुनिया का अनुभव हमें बहुत कुछ कह रहा है.

पीएम मोदी ने मन की बात में बताया कि केंद्र सरकार ने एक डिजिटल प्लेटफॉर्म covidwarriors.gov.in भी तैयार किया है. इस प्लेटफॉर्म से सामाजिक संस्थाओं के volunteers, civil society के प्रतिनिधि और स्थानीय प्रशासन को एक दूसरे से जोड़ा गया है. आप भी इससे जुड़कर देश सेवा कर सकते हैं, कोविड वॉरियर बन सकते हैं.

वहीं प्रधानमंत्री ने कहा कि देश की राज्य सरकारों की भी इस बात के लिए प्रशंसा करूंगा कि वो इस महामारी से निपटने में बहुत सक्रिय भूमिका निभा रहे हैं. स्थानीय प्रशासन, राज्य सरकारें जो अपनी जिम्मेदारी निभा रही हैं, उसकी कोरोना के खिलाफ लड़ाई में बहुत बड़ी भूमिका है.

Ramadan 2020 in Covid19 Lockdown: मुस्लिम भाइयों, लॉकडाउन के दौरान रमजान में घर पर इबादत कीजिए और देश को सुरक्षित रखिए

President on Narendra Modi Govt Epidemic Diseases Ordinance: नरेंद्र मोदी सरकार के महामारी अध्यादेश 2020 को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद की मुहर, अब डॉक्टरों पर हमला गैर जमानती अपराध

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App