नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को संसद में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर हुई बहस का धन्यवाद किया. पीएम मोदी ने लोकसभा के बजट सत्र को संबोधित करते हुए कहा कि सुरक्षित, समृद्ध और समावेशी राष्ट्र का सपना हमारे देश ने देखा है. इस सपने को पूर्ण करने के लिए हमें और तेजी से आगे बढ़ना होगा. यह समय की मांग है और यह अवसर भारत को खोना नहीं चाहिए. यदि हम सभी मिलकर आगे बढ़ेंगे तो आशा है कि भविष्य में आने वाली हर बाधाओं को पार कर जाएंगे. इस दौरान पीएम नरेंद्र मोदी ने लोकसभा के सभी सदस्यों का स्वागत भी किया. उन्होंने पहली बार सांसद बने सदस्यों को अपनी राय रखने के लिए धन्यवाद किया. पीएम मोदी ने कहा कि लोकसभा के स्पीकर ओम बिड़ला का भी तहेदिल से स्वागत किया. प्रधानमंत्री ने कहा कि स्पीकर नए हैं लेकिन उन्होंने जिस तरह से लोकसभा की कार्यवाही शुरू की है वह काबिल ए तारीफ है. उन्होंने लोकसभा के सभी सदस्यों को स्पीकर ओम बिड़ला का सहयोग करने की भी अपील की.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने भाषण में कहा कि 2014 में वे भी नए थे. देश की जनता ने हमें मौका दिया और एक मजबूत सरकार बनाई. मगर 2019 के लोकसभा चुनाव में जनता ने सरकार के कामकाज की समीक्षा की. सरकार के कामकाज को जांचा और तब जाकर फिर से भारी मतों से वोट देकर सरकार को चुना है. यह उनकी सरकार का पांच साल की कठोर मेहनत थी और देश की सेवा करने के लिए जनता ने फिर से मौका दिया है.

जनता ही ईश्वर का रूप है, जो सरकार के काम को अनुमोदित करती है. चुनाव में हार-जीत के आंकड़े जीवन की आस्था का खेल है. पिछले पांच साल में हमारी सरकार ने जनता की कठिनाईयों को समझा और उन्हें दूर करने की कोशिश की. इसलिए जनता ने उन्हें फिर से सम्मान दिया.

पीएम मोदी ने आगे कहा कि 2014 में मोदी सरकार का नारा गरीबों पर केंद्रित था. आज वह संतोष के साथ कह सकते हैं कि उनकी सरकार ने गरीबों के हित में काम किया और परिणामस्वरूप गरीबों ने ईवीएम पर बटन दबाकर फिर से मोदी सरकार को चुना है. पीएम मोदी ने आदिवासी समुदाय से आए सदस्यों का भी विशेष रूप से लोकसभा में स्वागत किया.

पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि पिछले पांच सालों में कई कठिनाइयां आईं लेकिन उनकी सरकार ने सभी तरह की चुनौतियों का सामना किया और देश की जनता की सेवा करने में कोई कसर नहीं छोड़ी. पहले लोगों के मन के अंदर सरकार के प्रति सवाल उठता था कि ये क्यों नहीं करते हैं लेकिन मोदी सरकार आने के बाद लोग सवाल करते हैं कि क्यों करते हैं. पीएम मोदी ने कहा कि क्यों नहीं करते हैं से लेकर क्यों करते हैं तक कि यात्रा काफी कठिन थी लेकिन उनकी सरकार ने यह कर दिखाया.

गांधीजी समेत अन्य स्वतंत्रता सेनानियों के सपनों का भारत हमने बनाया : पीएम नरेंद्र मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने भाषण में कहा कि स्वतंत्रता संग्राम में देश के कई बहादुर लोगों ने अपनी जान गंवाई. उन्होंने कहा कि हमने अपने भारत को स्वतंत्रता सेनानियों के सपनों का देश बनाने की ओर काम किया है. पीएम मोदी ने गांधीजी के 150वें जन्मदिवस और भारत की आजादी के 75वीं सालगिरह को उत्साहपूर्वक मनाने का अपील की है.

पानी बचाना हमारा मुख्य उद्देश्य : पीएम नरेंद्र मोदी

पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि जब भी हम जल संसाधनों की बात करते हैं तो उन्हें बाबासाहेब भीमराव अंबेडकर का नाम याद आता है. अंबेडकर ने सिंचाई और जलमार्ग के क्षेत्र में बढ़िया काम किया था. वहीं पीएम मोदी ने कहा कि उनकी सरकार ने इस बार जल शक्ति मंत्रालय बनाया है. जल संकट को हमने गंभीरता से लेना होगा. जल संचय पर हमें पूरा ध्यान देना होगा. पानी बचाना है, ये काम करके हम सामान्य मानव की जिंदगी को बचा सकते हैं. पानी का संकट दूर करके हम गरीबों और माताओं को बड़ी सहुलियत दे सकते हैं.

Indira Gandhi Emergency 45th Anniversary: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, इमरजेंसी लोकतंत्र का काला अध्याय, ममता बनर्जी का जवाब- देश में पिछले पांच साल सुपर इमरजेंसी जैसे

Niti Ayog Health Index Report: स्वास्थ्य सुविधाओं के लिहाज से यूपी की हालत सबसे खराब, केरल की सबसे अच्छी, नीति आयोग के हेल्थ इंडेक्स रिपोर्ट में खुलासा