नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को एक इंटरव्यू में जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बारे में खुलकर बात की. पीएम मोदी ने बताया कि नया कश्मीर खुली अर्थव्यवस्था वाला होगा और घाटी के वासी खुले विचार वाले होंगे. प्रधानमंत्री ने एक अंग्रेजी अखबार को दिए इंटरव्यू में बताया कि बीजेपी नीत एनडीए सरकार देश की अर्थव्यवस्था को तेजी से विकास के रास्ते पर ले जाने के लिए प्रतिबद्ध है.

इस इंटरव्यू में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि उन्हें भरोसा है कि निकट भविष्य में जम्मू-कश्मीर के युवा अपने क्षेत्र को नए मुकाम पर लेकर जाएंगे. अनुच्छेद 370 हटने के बाद कई बड़े निवेशकों ने जम्मू-कश्मीर में निवेश करने की इच्छा जताई है. नया कश्मीर खुले विचार और खुले बाजार वाला होगा. बंद माहौल में राज्य का आर्थिक विकास नहीं हो सकता था.

जम्मू-कश्मीर के युवाओं को मुख्यधारा में लाने के लिए सरकार राज्य में शिक्षा और रोजगार के क्षेत्र में तेजी से विकास किया जाएगा. जम्मू-कश्मीर में आईआईटी और आईआईएम जैसे उच्च शिक्षा के संस्थानों के खुलने से युवाओं को बेहतर अवसर प्राप्त होंगे. वहीं केंद्र सरकार जम्मू-कश्मीर में सड़क और रेल से लेकर हवाई अड्डों तक का आधुनिकीकरण कराएगी. जिससे वहां के लोग देशभर से और बेहतर तरीके से जुड़ सकेंगे.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से इस इंटरव्यू में जल संकट और जल संरक्षण के मुद्दे पर भी बात की गई. उन्होंने बताया कि केंद्र सरकार का जल शक्ति अभियान सरकार का नहीं बल्कि आम जनता का अभियान है. केंद्र सरकार सिर्फ एक साझेदार की भूमिका निभा रही है.

पीएम मोदी ने बताया कि इस साल के आम बजट में केंद्र सरकार ने पब्लिक सेक्टर बैंकिंग सिस्टम को बूस्ट करने के लिए 70 हजार करोड़ रुपये की मदद की है. केंद्र सराकर आरबीआई और देश के बैंकिंग व्यवस्था के साथ मिलकर काम कर रही है ताकि इस वित्त के क्षेत्र में आने वाली बाधाओं को दूर किया जा सके और क्रेडिट का फ्लो बना रहे. वहीं दूसरी ओर ऑटो इंडस्ट्री में आई मंदी के बारे में प्रधानमंत्री का कहना है कि यह कुछ ही समय के लिए है, जल्द ही ऑटो सेक्टर मंदी से उभर जाएगा.

PM Modi Man Vs Wild With Bear Grylls: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के एडवेंचर शो मैन वर्सेज वाइल्ड को गृह मंत्री अमित शाह ने बताया मोटिवेशनल और पर्यावरण संरक्षण के लिए अहम कदम

Farooq Abdullah Omar Abdullah and Mehbooba Mufti Eid: उमर अब्दुल्ला, फारूख अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती के लिए फीकी रही ईद, घर पर पसरा रहा सन्नाटा, हर साल होता था बड़ा जलसा

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App