मॉस्को: दो दिनों के रूस दौरे पर गए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस्टर्न इकनॉमी फोरम को संबोधित किया. इस दौरान उन्होंने कहा मुझे पूरा विश्वास है कि आज का हमारा मंथन फॉर ईस्ट ही नहीं बल्कि पूरी मानव जाति के प्रयासों को नई ऊर्जा प्रदान करेगा. रूस के राष्ट्रपति ब्लादिमीर पुतिन को धन्यवाद देते हुए पीएम मोदी ने कहा कि व्लादिवस्तोक यूरेशिया और पैसिफिक का संगम है. यह आर्कटिक और नॉर्दन सी रूट के लिए नए अवसर खोलता है. पीएम ने आगे कहा कि रूस का करीब तीन चौथाई भाग एशियाई है और फार ईस्ट इस महान देश की एशियन पहचान को मजबूत करता है.

पीएम मोदी ने रूस के भौगोलिक पर्यावरण की तारीफ करते हुए कहा कि इस क्षेत्र का आकार भारत से करीब दोगुना है जबकि आबादी सिर्फ 6 मिलियन है. रूसी राष्ट्रपति पुतिन की तारीफ करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि फॉर ईस्ट के प्रति लगाव और विजन केवल इस क्षेत्र के लिए ही नहीं, बल्कि भारत जैसे रूस के पार्टनर्स के लिए अभूतपूर्व अवसर लेकर आया है. उन्होंने आगे कहा कि रूस और फार ईस्ट का रिश्ता बहुत पुराना है. भारत पहला देश है, जिसने व्लादिवस्तोक में अपना कांसुलेट खोला है.

इतिहास का संदर्भ देते हुए पीएम मोदी ने कहा कि सोवियत रूस के समय भी व्लादिवस्तोक के जरिए बहुत सामान भारत पहुंचता था और आज इसकी भागीदारी और भी बढ़ गई है. पीएम ने कहा कि यह दोनों देशों की सुख-समृद्धि का सहारा बन रहा है. पीएम मोदी ने कहा कि भारत में भी हम सबका साथ – सबका विकास और सबका विश्वास के मंत्र के साथ एक नए भारत के निर्माण में जुटें हैं. भारत की अर्थव्यवस्था के बारे में उन्होंने कहा कि 2024 तक भारत को 5 ट्रिलियन की अर्थव्यवस्था बनाने के अभियान में भी हम जी-जान से जुटे हैं और इस तरह भारत विश्व की आर्थिक महाशक्ति के तौर पर दुनियाभर में पहचाना जाएगा.

PM Narendra Modi Shinzo Abe Bilateral Meeting: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने की जापान के पीएम शिंजो आबे से मुलाकात, अर्थव्यवस्था और रक्षा में द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत करने पर हुई चर्चा

Human Rights Commission of Rajasthan on Live in Relationship: राजस्थान मानवाधिकार आयोग की अशोक गहलोत और नरेंद्र मोदी सरकार से सिफारिश- राज्य में लिव इन रिलेशनशिप प्रथा पर लगे प्रतिबंध

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर