नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज भोपाल ( PM modi at Madhya Pradesh ) पहुंचकर वर्ल्ड क्लास कमलापति रेलवे स्टेशन का उद्घाटन किया. इस अवसर पर पीएम ने राष्ट्र को आधुनिक सुविधाओं से लेस एयरपोर्ट के तर्ज़ पर बने स्टेशन को राष्ट्र को समर्पित किया. पीएम मोदी ने कहा कि आज का दिन देश के लिए गौरवपूर्ण इतिहास और वैभवशाली भविष्य के संगम का दिन है. भारतीय रेल उच्चवल भविष्य की तरफ बढ़ रहा है. भोपाल के इस ऐतिहासिक रेलवे स्टेशन का सिर्फ कायाकल्प नहीं हुआ है, बल्कि गिन्नौरगढ़ की रानी का नाम जुड़ने से इसका महत्व और बढ़ गया है.

पहले रेल परियोजनाओं को जमीन पर उतरने में लग जाते थे वर्षों: पीएम मोदी

वर्ल्ड क्लास कमलापति रेलवे स्टेशन के उद्घाटन के बाद पीएम ने सम्बोधन के दौरान पूर्व की UPA की सरकार पर निशाना साधते हुए कहा बीते सात वर्षों में हर वर्ष औसतन 2,500 किमी ट्रैक कमीशन किया गया है जबकि उससे पहले के वर्षों में ये 1,500 किमी के आस-पास ही होता था. पहले की तुलना में इन वर्षों में रेलवे ट्रैक के बिजलीकरण की रफ्तार पांच गुना से अधिक हुई है. पहले रेलवे को टूरिज्म के लिए यदि उपयोग किया भी गया तो उसको एक प्रीमियम क्लब तक ही सीमित रखा गया था. ऐसा पहली बार होगा जब सामान्य मानवी को उचित राशि पर पर्यटन और तीर्थाटन का दिव्य अनुभव दिया जा रहा है. इसी क्रम में सरकार की ओर से रामायण सर्किट ट्रेन की शुरुआत ऐसा ही एक नया प्रयास है.

पीएम बोले बदल रहा है भारत

प्रधानमंत्री ने अपने सम्बोधन में आगे कहा कि भारत कैसे बदल रहा है, सपने कैसे सच हो सकते हैं, यह देखना हो तो आज इसका एक उत्तम उदाहरण भारतीय रेलवे भी बन रहा है. छह से सात साल पहले तक लोग भारतीय रेल के अनुभव की बात करने पर इसे कोसते हुए ही नज़र आते थे. अब हमने जिस तेजी के साथ रेलवे इंफ्रास्ट्रक्चर का विकास किया है उसका लाभ किसानों, विद्यार्थियों, व्यापारियों और उद्यमियों को हो रहा है. इसका ही परिणाम है कि आज किसान रेल के माध्यम से देश के कोने-कोने तक अपनी उपज भेज पा रहे हैं.

यह भी पढ़ें :

Chhatisgarh: बीजापुर में मासूम बेटे के साथ दर-दर भटक रही नक्सलियों द्वारा अगवा किये गये इंजीनियर की पत्नी

Sigachi Industries Stock Market Listing : सिगाची इंडस्ट्रीज की बाजार में बंपर एंट्री, निवेशक हुए मालमाल

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर